Golmal Starcast Will Be in Cameo in Ranveer Singh Simba

दि राइजिंग न्‍यूज

लखनऊ।

 

राजधानी लखनऊ के नगर निगम सदन में एक बाऱ फिर भगवा परचम लहराएगा। भारतीय जनता पार्टी ने एक बार फिर मेयर तथा 58 पार्षदों सीटों पर कब्जा जमा लिया है। दूसरे नंबर समाजवादी पार्टी रहीं जिसे 28 सीटें हासिल हुई जबकि कांग्रेस को महज आठ सीटें मिलीं। बहुजन समाज पार्टी दो सीटों तक सिमट गई तो 14 निर्दलीय प्रत्याशियों ने अपनी जीत दर्ज की।

 

लखनऊ नगर निगम में पिछले कई चुनावों से भाजपा का ही दबदबा रहा है। एक बार फिर भाजपा अपनी जीत को दोहराने में सफल रहीं। इसके लिए खुद मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कमान संभाल रखी थी। इसके विपरीत विपक्षी समाजवादी पार्टी और बहुजन समाज पार्टी निकाय चुनाव में वाक ओवर जैसी स्थिति में नजर आए। कांग्रेस के लिए प्रदेशाध्यक्ष राज बब्बर से जरूर प्रचार किया लेकिन उसका कोई खास परिणाम नहीं दिखा। नगर निगम की 110 सीटों मे पचास फीसद से ज्यादा सीटों पर भाजपा अपनी जीत दर्ज की। निकाय चुनाव परिणाम आने के बाद मुख्यमंत्री योगी ने इसे पार्टी की विचार धारा, विकास की नीति तथा जनता के प्रेम का नतीजा करार दिया।

 

बिखरा दिखा विपक्ष का वोट बैंक  

 

भारतीय जनता पार्टी की मेयर प्रत्याशी संयुक्ता भाटिया ने समाजवादी पार्टी की मीरा वर्धन को एक लाख 31 हजार से अधिक वोटों से पराजित किया। जबकि पार्षद पदों पर विपक्षी वोटों के बिखराव का पूरा फायदा भाजपा के पक्ष में दिखा। कई क्षेत्रों में मुस्लिम वोट में बिखराव दिखा। मुस्लिम वोटों का रुझान बसपा व कांग्रेस के पक्ष में जाने के कारण भाजपा को इसका पूरा फायदा मिला। लिहाजा वह आसानी से सदन पर कब्जा करने में सफल रहें।

 

जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555

दि राइजिंग न्यूज़

Suggested News

Advertisement