These Women Film Directors Refuse to work with Proven Offenders

दि राइजिंग न्‍यूज

लखनऊ।

 

सरकार अपनी तमाम कोशिशों के बावजूद तेज रफ्तार पर ब्रेक लगाने में नाकाम साबित हो रही है। इसी तेज रफ्तार ने राजधानी में एक शख्स की जान ले ली। मामला कृष्णा नगर इलाके के आजाद नगर का है। यहां फौजी कॉलोनी निवासी प्रदीप कुमार (रिटायर फौजी के बेटे जिनकी उम्र 45 वर्ष) शनिवार की रात में बाइक से जा रहे थे तभी तेज रफ्तार में आ रही एक कार ने जोरदार टक्कर मारी और वह सड़क पर गिर गए।

स्थानीय लोगों ने दौड़ाकर उस कार चालक को पकड़ा और मौके पर पुलिस को बुलाया और घायल को अस्पताल ले गए। जहां डॉक्टर्स उसे मृत घोषित कर दिया। इसकी जानकारी कार चालक पाते ही अस्पताल से भाग गया। वहीं, लोगों ने अस्पताल के साथ दीवान त्रिभुवन चौधरी पर यह आरोप लगाया कि उन्होंने कार चालक से सेटिंग करके उसे मौके से फरार कर दिया।

 

 

परिजनों ने शुरू किया हंगामा

इस मामले में इंस्‍पेक्‍टर कृष्णा नगर ने सिपाही के ड्यूटी पर लापरवाही को देखते हुए उसे निलंबित कर दिया है और कार चालक को रविवार की सुबह ही गिरफ्तार कर लिया गया। वहीं, आज सुबह जब शव दाह संस्कार के लिए ले जा रहे थे तभी रास्ते में वीआइपी रोड नरही चौराहे पर परिजन शव रखकर प्रदर्शन करने लगे और मुआवजे की मांग करने लगे।

 

 

करीब तीन घंटे तक चला प्रदर्शन

सड़क पर यह प्रदर्शन करीब तीन घंटे तक चला और गाड़ियों में तोड़फोड़ भी हुई। इंस्पेक्टर कृष्णा नगर का कहना है कि गाड़ियों में तोड़फोड़ नहीं हुई है। लोगों को समझाकर शव का दाह संस्कार करा दिया गया है। अभी स्थिति काबू में है। मामले की जांच की जा रही है और दोषियों को सख्त सज़ा मिलेगी।

 

 

जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555

दि राइजिंग न्यूज़

Suggested News

Advertisement