Salman Khan Helped Doctor Hathi

दि राइजिंग न्यूज

लखनऊ।

 

परिवहन विभाग के प्रवर्तन दलों ने सोमवार को आरटीओ दफ्तर से महज तीन सौ मीटर दूर स्थित ट्रांसपोर्ट नगर स्थित पार्किंग नंबर नौ में छापा मारा। यहां पर तीन दर्जन से ज्यादा ओवर लोड ट्रक पकड़े गए। ट्रकों पर निर्धारित मात्रा से कहीं ज्यादा मौरंग –बालू आदि लदा हुआ था।  आरटीओ की इस कार्रवाई के दौरान चालक वाहन छोड़ कर भाग खड़े हुए। प्रवर्तन दल ने मौके पर ही वाहनों का चालान काटा और उन्हें सीज करने की कार्रवाई की।

 

ट्रांसपोर्ट नगर स्थित पार्किंग में ओवर लोड वाहनों को लाकर खड़ा करने की शिकायत काफी समय से मिल रही थी। ट्रांसपोर्टर एसोसिएशन भी कई बार इसकी शिकायत कर चुकी थी। दरअसल प्रवर्तन शाखा के कुछ अधिकारियों की मिलीभगत से ही यह पूरा गोरखधंधा चल रहा था। इसी क्रम में दो दिन पहले ट्रांसपोर्टरों ने आऱटीओ दफ्तर पर प्रदर्शन किया था। एसोसिएशन के सदस्यों की सूचना पर आरटीओ के प्रवर्तन दल ने ट्रांसपोर्टरों के साथ सोमवार दोपहर पार्किंग नंबर नौ पर छापा मारा।

छापे के दौरान पार्किंग में अफरा तफरी मच गई। अधिकारियों ने पार्किंग नंबर नौ से 39 ओवर लोड वाहनों का जब्त कर दिया। संभागीय परिवहन अधिकारी विदिशा सिंह ने बताया कि पार्किंग से 39 वाहन पकड़े गए हैं। उन्होंने कहा कि अब बाकी पार्किंग भी जांच कराई जाएगी और उसके लिए पुलिस से भी सहयोग लिया जाएगा।

 

चिराग तले अंधेरा

परिवहन विभाग के मुस्तैद अधिकारी ओवर लोड वाहनों की धरपकड़ के लिए हाईवे और राजमार्गों की गश्त करते हैं। ईंधन से लेकर ऊर्जा लगाते हैं लेकिन कड़ी मशक्कत के बाद वाहन पकड़ में आते हैं। मगर जितनी भी जांच हो सैकड़ों ओवर लोड वाहन ट्रांसपोर्ट नगर में ही बनी पार्किंग तक पहुंच जाते हैं। पार्किंग में ही इन वाहनों की सौदा होता है और उसके बाद वह गंतव्य तक पहुंच भी जाते हैं। खास बात यह है कि पार्किंग तक वाहनों के पहुंचने में परिवहन विभाग से लेकर पुलिस की भी भूमिका होती है। प्रवर्तन अधिकारी ओवर लोड पर अंकुश लगाने तथा जांच का दावा किया करते हैं जबकि वाहन आराम से दफ्तर के पड़ोस में ही आकर पार्क होते हैं। दफ्तर से कुछ सौ मीटर दूरी पर खड़े होने वाले वाहनों की परिवहन विभाग के अधिकारियों को भनक नहीं लगती।

जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555

दि राइजिंग न्यूज़

Suggested News

Advertisement

Loading...

Public Poll