Golmal Starcast Will Be in Cameo in Ranveer Singh Simba

दि राइजिंग न्‍यूज

आउटपुट डेस्‍क।

 

सभी की गर्लफ्रैंड्स का नेचर अलग-अलग होता है। किसी की फीमेल पार्टनर खुशमिजाज तो किसी की इमोशनल होती हैं। ऐसे में ब्वॉयफ्रैंड को उसके नेचर को ध्यान में रखकर बातें करनी पड़ती हैं। जिन लड़कों की गर्लफ्रैंड सेंसेटिव यानी स्वाभाव में संवेदनशील होती है, वह होते तो बहुत लकी है, लेकिन उन्हें गर्लफ्रैंड से बात करते समय काफी सोचना पड़ता है क्योंकि इस तरह की लड़कियां कुछ बातों का जल्दी बुरा मान जाती हैं।

चलिए आज हम आपको कुछ ऐसी बातों के बारे में बताने जा रहे है, जिन्हें अपनी सेंसेटिव गर्लफ्रैंड से बिल्कुल न कहें-

 

इमोशनल मत बनो, रियल लाइफ जियो

अपनी गर्लफ्रैंड से ऐसी बात बिल्कुल न करें क्योंकि आपकी यही बात उनको हर्ट कर सकती है और रिश्ते में दरार खड़ी हो जाती हैं। वहीं उसकी प्यार को लेकर सोच भी बदल जाती हैं क्योंकि आपकी इस बात से उन्हें लगता है कि वो गलत कर रही हैं।

थोड़ा फास्‍ट फॉरवर्ड बनो

सेंसेटिव लड़कियां हर काम बड़ी तसल्ली से करती हैं, जिस वजह से वह हर काम करते प्रोपर टाइम लेती है। ऐसे में अगर इनका पार्टनर इन्हें फास्‍ट फॉरवर्ड कहें या इनकी इस आदत पर इन्हें कुछ बोले तो यह हर्ट हो जाती हैं। वह जैसी है उन्हें वैसे ही स्वीकार करें क्योंकि इस तरह की लड़कियों किसी काम करने में तभी खुशी मिलती है, जब तक वह उसे अच्छे देख परख न कर लें।

 

ज्यादा मत सोचा करो

सेंसेटिव लड़कियां सोच-विचार बहुत करती है क्योंकि यह हर चीज को अच्छे से परखना पसंद करती हैं, तब जाकर इनके मन को तसल्ली मिलती हैं। इन्हें परिस्थिति के हर पहलू के बारे में सोचना अच्‍छा लगता है। ऐसे में अगर आप इन्हें कुछ भी कहेंगे तो यह जल्दी गुस्सा कर लेती। आपको उनकी इस आदत को समझना चाहिए और उन्हें प्रोपर स्पोर्ट करना चाहिए।

तुम्‍हारे साथ रहना मुश्किल है

अपनी सेंसेटिव गर्लफ्रेंड को यह बात कभी न कहें क्योंकि इससे उनका दिल टूट सकता हैं। वहीं उसे कभी जाने-अनजाने में इस बात का एहसास न करवाएं कि वो आपके ऊपर बोझ है या आप किसी मजबूरी से उसे झेल रहे हैं। आपके ऐसे कहने से उनके अस्‍तित्‍व पर सवाल उठने लगते है, जिस वजह से उसे लगने लगता है कि वो आपके साथ रहने के लायक नहीं हैं।

 

तुम्हें आकर्षण का केंद्र बनना पसंद है

सेसेंटिव लड़कियां हर तरह से हर बात को तवज्‍जो देने की कोशिश करती हैं, ऐसे में हमें लगने लगता है कि यह दूसरों के सामने आकर्षण का केंद्र बनने की कोशिश कर रही है लेकिन ऐसा बिलकुल नहीं होता। इस नेचर वाली लड़कियों को अटेंशन के बजाए मदद की जरूरत होती हैं।

जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555

दि राइजिंग न्यूज़

Suggested News

Advertisement