Home Life Style Sitting With Crossed Legs May Harm Your Health

PNB महाघोटाला: देश के 15 शहरों में 45 ठिकानों पर ED की छापेमारी

सुकमा एनकाउंटर: नक्सलियों ने की रोड कंस्ट्रक्शन कंपनी के मैनेजर की हत्या

सनातन धर्म को लोग हिन्दू धर्म कहते हैं, यह हमसे चिपक गया है: मोहन भागवत

छत्तीसगढ़: सुकमा में नक्सलियों से मुठभेड़ में 6 सुरक्षाकर्मी घायल

PNB घोटाला: दिल्ली के साकेत मॉल, वसंतकुंज और रोहिणी में ED की छापेमारी

बैठने का यह तरीका सही नहीं... हो सकती हैं परेशानियां!

Life Style | 15-Nov-2017 12:40:26 | Posted by - Admin
   
Sitting With Crossed Legs May Harm Your Health

दि राइजिंग न्यूज़

आउटपुट डेस्क।

 

ज्यादातर लोगों पैर क्रॉस करके बैठने की आदत होती है। इसकी एक वजह यह है कि इस पॉस्चर को काफी स्टाइलिश माना जाता है।  अगर आप भी पैरों को क्रॉस कर के बैठते हैं तो सावधान हो जाएं।  क्योंकि कई हैल्थ एक्सपर्ट्स ने ऐसे बैठने की आदत को सेहत लिए काफी खतरनाक बताया है।

दरअसल, आपके बैठने का यह तरीका आपको कई तरह की बीमारियों का शिकार बना सकता है। इसलिए बैठते समय इस बात का जरूर ध्यान रखें कि आप ज्यादा समय तक किसी एक पॉस्चर में ना बैठें।  हेल्दी रहने के लिए समय-समय पर अपना पॉस्चर बदलते रहें।

आइए जानते हैं पैरों को क्रॉस करके बैठने से क्या बीमारियां हो सकती हैं...

 

1.  ब्लड प्रेशर का बढ़ना:

कई स्टडीज में यह बात साबित हो चुकी है कि ज्यादा समय तक पैरों को क्रॉस करके बैठने से ब्लड प्रेशर काफी हद तक बढ़ जाता है।  इसलिए हैल्थ एक्सपर्ट ब्लड प्रेशर के शिकार लोगों के साथ ऐसे लोगों को भी इस पोस्चर में बैठने से बचने की हिदायत देते हैं जिन्हें ब्लड प्रेशर की परेशानी नहीं है।

 

2.  नर्व पैरालिसिस का खतरा:

अगर आप ज्यादा समय तक पैरों को क्रॉस करके बैठते हो तो इससे आपके पैरों की नसों को नुकसान पहुंच सकता है। क्योंकि ऐसे बैठने पर पैरों की नसों पर प्रेशर बढ़ जाता है जिस वजह से नसों के डेमेज होने का खतरा रहता है। इतना ही नहीं बल्कि इस पोस्चर में बैठने से व्यक्ति पेरोनोल नर्व पैरालिसिस का शिकार भी हो सकता है।

3.  ब्लड सर्क्यूलेशन बिगड़ना:

एक पैर को दूसरे पैर पर रखकर बैठने के कारण दिल में ज्यादा ब्लड पहुंचता है। क्योंकि जब आप पैरों को क्रॉस करके बैठते हैं तो ब्लड ऊपर से नीचे की तरफ आना बंद कर देता है और हार्ट उल्टा पंप करना शुरु कर देता है। जिस वजह से शरीर में ब्लड सर्क्यूलेशन बिगड़ जाता है।

 

4.  स्पाइडर वेन का खतरा:

ज्यादा समय तक एक पैर को दूसरे पैर पर रखकर बैठने से आप स्पाइडर वेन के शिकार हो सकते हैं। क्योंकि एक पैर को दूसरे पैर पर रखकर बैठने से पैरों में पहुंचने वाला खून रुक कर वापस दिल में ही सर्क्युलेट हो जाता है। जिस कारण आपके पैरों में सूजन आने लगती है। साथ ही आपके पैरों की नसें कमजोर हो जाती हैं।

 

"जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555








TraffBoost.NET

Rising Stroke caricature
The Rising News Public Poll





Flicker News

Most read news

 


Most read news


Most read news