Akshay Kumar Gold And John Abraham Satyameva Jayate Box Office Collection Day 2

दि राइजिंग न्‍यूज

आउटपुट डेस्‍क।

हस्‍तरेखा शास्‍त्र में हृदय रेखा मनुष्य के हृदय से संबंधित महत्वपूर्ण बातें बताती है। हथेली में हृदय रेखा का आरंभ तर्जनी उंगली के नीचे हथेली को पार करता हुआ कनिष्ठा पर समाप्त होता है। हृदय रेखा जीवन रेखा और मस्तिष्क रेखा के ऊपर हथेली के सबसे उपरी भाग पर होती है। हृदय रेखा व्यक्ति के मनोबल को भी दर्शाती है।

अशुभ हृदय रेखा

हस्तरेखा शास्त्र के अनुसार हृदय रेखा पर चतुष्कोण होने से व्यक्ति में मनोबल अत्यधिक मजबूत होता है। वहीं जब हृदय रेखा अशुभ स्थिति को दर्शाती है। तो ऐसा माना जाता है कि हार्ट अटैक की संभावना अधिक प्रबल हो जाता है।

ह्रदय रेखा

अशुभ होने की स्थिति में व्यक्ति को हृदय संबंधी रोग हो सकते हैं। जिस व्यक्ति की हथेली में हृदय रेखा साफ, स्पष्ट, दोष रहित और पूर्ण रूप से लालिमा लिए होती है तो व्यक्ति का पारिवारिक और सामजिक जीवन दोनों शुभ परिणाम देने वाला होता है।

इसके विपरीत यदि जब हृदय रेखा अस्पष्ट, कमजोर, टूटी हुई, जाली और अन्य रेखाओं से कट रही हो तो ऐसा व्यक्ति उपर से चाहे कितना भी उदार दिखने का प्रयास करे, भीतर से वह स्वार्थी, क्रूर, पापी, दूसरों के धन पर नजर रखने वाला होता है। ऐसा व्यक्ति किसी के विश्वास का पात्र नहीं हो सकता है।

 

जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555

दि राइजिंग न्यूज़

Suggested News

Advertisement

Public Poll