Neha Kakkar First Time Respond On Question Of Ex Boyfriend Himansh Kohli

दि राइजिंग न्यूज़

आउटपुट डेस्क।

 

सोशल मीडिया ने जितनी ज्यादा हमें सुविधाएं दीं, उससे कहीं ज्यादा भर्मित कर दिया। व्हाट्सएप पर स्वास्थ्य से जुड़े संदेश मिलते हैं और उन्हें पढ़कर लोग आगे फॉरवर्ड कर देतें है, लेकिन कोई उसकी प्रमाणिकता नहीं चेक करता। लिहाजा.. भ्रम का शिकार होना तो लाज़मी है।

सोशल मीडिया पर ऐसा ही एक सन्देश Breast Cancer को लेकर चल रहा है। इस मेसेज में ब्रेस्ट कैंसर से बचने के जो तरीके बताए गए हैं, वो कुछ इस तरह हैं...

  • काली ब्रा पहनने से ब्रेस्ट कैंसर हो जाता है।

  • जिन ब्रा में तार लगे रहते हैं, उन्हें पहनने से कैंसर हो जाता है।

  • काली ब्रा गर्मियों में पहनने से कैंसर हो जाता है।

  • सोते वक्त ब्रा नहीं पहनते।

  • जब सूरज के नीचे जाएं तो अपने स्तनों को अच्छी तरह दुपट्टे से ढकें।

  • डियोड्रेंट इस्तेमाल करें, ना की एंटी-पर्सपिरेंट का।

मैसेज में लिखी इन बातों से वास्तविकता का कोई लेना-देना नहीं है

कैंसर स्पेशलिस्ट का कहना है कि इस मेसेज का कोई महत्व नहीं है क्योंकि ये सब ब्रैस्ट कैंसर का लक्षण ही नहीं हैं। डॉक्टर्स का कहना है कि कैंसर क्यों होता है, इसकी ठोस वजह किसी को नहीं मालूम लेकिन कुछ महत्वपूर्ण कारण होते हैं जिसने ये पता लगता है कि पेशेंट को ब्रैस्ट कैंसर है।

ब्रैस्ट कैंसर के कुछ प्रमुख कारण-

  • आनुवांशिक यानी genetic.

  • स्तनपान नहीं कराने से।

  • हार्मोनल बदलाव।

  • लाइफस्टाइल।

  • स्तनों में गांठ।

  • समय से पहले मासिक धर्म शुरू होना।

  • 55 साल की उम्र के बाद मेनोपॉज।

https://www.therisingnews.com/?utm_medium=thepizzaking_notification&utm_source=web&utm_campaign=web_thepizzaking&notification_source=thepizzaking

जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555

दि राइजिंग न्यूज़

Suggested News

Advertisement