Actress katrina Kaif and Mouni Roy Visited Durga Puja Pandal

दि राइजिंग न्यूज़

आउटपुट डेस्क।

हर महिला के लिए मां बनना जीवन का सबसे सुखद एहसास होता है। इसे लेकर वह न जाने कितने सपने बुन लेती है, लेकिन कई बार कुछ महिलाएं इस सुख से वांचित हो जाती है। महिलाओं में फीमेल इंफर्टिलिटी (बांझपन) उनके ये सारे सपने चूर-चूर कर देता है।

पीरियड्स में परेशानी

कोई भी महिला तभी प्रेग्नेंट हो सकती है जब उसके पीरियड्स नियमित रूप से आते रहे। अनियमित पीरियड्स, पीरियड्स के दौरान दर्द या फिर पीरियड्स ना होने के कारण महिला को इंफर्टिलिटी की परेशानी हो सकती है। अगर आपको पीरियड्स में इनमें से कोई भी परेशानी हो तो आज ही अपने डॉक्टर को दिखाएं।

गर्भाशय से खून निकलना

किसी-किसी महिला को पीरियड्स के अलावा भी गर्भाशय से हल्का-हल्का खून निकलता है, जिसे फाइब्रॉएड्स कहते हैं। यह एक प्रकार का ट्यूमर है जो ट्यूमर मसल्स में टिशू के ज्यादा बनने पर होता है। अगर किसी महिला को यह परेशानी है तो उसे गर्भ धारण करने में परेशानी होगी। वह गर्भधारण कर भी लें लेकिन, इस ट्यूमर के कारण मिसकैरेज का खतरा बहुत ज्यादा रहता है। इसका इलाज सर्जरी के जरिए किया जाता है।

शारीरिक संबंध बनाते समय दर्द

शारीरिक संबंध बनाते समय दर्द नहीं होना चाहिए। अगर आपके साथ ऐसा होता है तो इसे अनदेखा न करें बल्कि तुरंत डॉक्टर से संपर्क करें। क्योंकि इसका कारण एन्डोमीट्रीओसिस या फिर बॉवेल मूवमेंट हो सकते हैं।

अचानक वजन बढ़ना

शादी के बाद कुछ महिलाओं का अचानक ज्यादा वजन बढ़ जाता है। अगर किसी का वजन तमाम एक्सरसाइज और खाने पीने में बदलाव के बाद भी नहीं कम होता है तो यह फीमेल इंफर्टिलिटी का कारण हो सकता है। इसके लिए एक बार डॉक्टर को जरूर दिखाएं।

चेहरे के बाल बढ़ना

शरीर में टेस्टोस्टेरोन लेवल बढ़ने के कारण चेहरे पर पर बाल भी बढ़ सकते हैं। अगर आपके चिन, अपर लिप्स, चेस्ट, पेट पर बाल बढ़ने लगते हैं तो यह सेक्स हार्मोन यानी टेस्टोस्टेरोन में अव्यवस्था के लक्षण हैं। बता दें, टेस्टोस्टेरोन लेवल बढ़ने से बांझपन का खतरा हो सकता है। ऐसे में डॉक्टर से संपर्क करने में जरा भी देरी न करें।

जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555

दि राइजिंग न्यूज़

Suggested News

Advertisement