Mahi Gill Regrets Working in Salman Khan Film

दि राइजिंग न्‍यूज

आउटपुट डेस्‍क।

 

आजकल बच्चों को मोबाइल, लैपटॉप या फिर कंप्यूटर देखने से दूर रखना लगभग मुश्किल है। ऐसे में इनसे निकलने वाली तेज रोशनी का असर बच्चों की आंखों पर पड़ता है। इससे क्‍लास रूम में पीछे बैठते समय बच्चे के ब्लैक बोर्ड तक देखने में बहुत परेशानी होती है।

धीरे-धीरे उनकी दूर की नजर कमजोर होनी शुरू हो जाती है, क्योंकि लगातार इन चीजों को देखने से आंखों पर दवाब पड़ने लगता है। इससे आंखों की मांसपेशियां कमजोर हो जाती हैं। इसीलिए जितना हो सके बच्चों को इनसे दूर रखें, ताकि आगे चलकर उन्हें पढ़ने में दिक्कत ना हो।

इससे बचने के लिए इन खास बातों का ख्याल रखें-

  • बच्चे को एक तय समय के बाद कम्प्यूटर के आगे ना बैठने दें।

  • मोबाइल देखने का समय भी हो निश्चित।

  • बच्चा टीवी देखने का शौकीन हो तो उसे दूरी पर बैठने की आदत डालें।

  • बच्चे की आंखों में हमेशा अच्छी क्वालिटी का काजल ही लगाएं।

  • बार-बार बच्चे को आंखे रगड़ने से रोकें।

घरेलू उपाय भी कारगर-

  • सेब सेहत के लिए बहुत फायदेमंद है। बच्चे को रोजाना सेब का मुरब्बा खिलाएं और इसके तुरंत बाद दूध पिलाएं। इससे आंखों की रोशनी तेज होनी शुरू हो जाएगी।

  • रोजाना नहाने से पहले पांव के अंगूठे पर सरसों मलें। इससे आंखों की रोशनी बढ़ती है।

  • हरी धनिए को पीसकर इसका रस निकाल लें, इसे साफ कपड़े में छान कर पानी निकाल लें। आंखों में एक-एक बूंद डालने से फायदा होता है।

  • कानों का पीछे वाला हिस्सा यानि कनपटी के दोनों और घड़ी की सीधी और उलटी दिशा में मसाज करें। 20 बार इसी तरह मसाज करने से आंखों को बहुत फायदा मिलता है।

  • सुबह उठकर मुंह में पानी भरकर गाल फुलाएं, इसी पोजीशन में आंखों पर ठंड़े पानी के छींटे मारें।

  • बच्चे की डाइट में पपीता जरूर शामिल करें। इससे आंखों की रोशनी बढ़ती है। 

जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555

दि राइजिंग न्यूज़

Suggested News

Advertisement

Loading...

Public Poll