Home Kids World This Disease In Children On The Rise Be Carefull

जम्मू-कश्मीर: पाकिस्तान सीजफायर उल्लंघन में एक और नागरिक की मौत

हम शहीदों के परिवार के लिए कुछ भी करें वो हमेशा कम ही रहेगा: राजनाथ सिंह

केंद्र सरकार लोकतंत्र की हत्या करने में जुटी है: संजय सिंह

ममता ने PM से की विवेकानंद- बोस जन्मदिवस को नेशनल हॉलिडे घोषित करने की मांग

J&K में हमारी सेना, पैरा और पुलिस समन्वय से कर रही आतंकियों का सफाया: राजनाथ

सावधान! बच्चों में बढ़ रही यह खतरनाक बीमारी

Kids World | 23-Feb-2017 02:53:17 PM | Posted by - Admin

  • मौसम में उतार चढ़ाव से इस वायरल फीवर के मरीज भी हुए दुगुने
  • साफ़ सफाई व पोषक तत्वों को खाने की सलाह दे रहे हैं डॉक्‍टर

   
this disease in children on the rise be carefull

दि राइजिंग न्‍यूज

इन दिनों तापमान में खासा परिवर्तन देखा जा रहा है। दिन में तेज धूप तो शाम को ठंडी हवाओं के चलने से बीमारियों ने भी पांव पसारने शुरू कर दिए हैं। मौसम में इस परिवर्तन के कारण बच्चों में गैस्ट्रो एन्ट्राइटिस की समस्या बढ़ती जा रही है। इसमें अचानक बच्चों में दस्त और उल्टी शुरू हों जाती हैं जिससे शरीर की प्रतिरोधक क्षमता घटने लगती है और खतरा बढ़ जाता है।

हैलट में बाल रोग विभाग के प्रवक्ता डाक्टर राजतिलक बताते हैं की इस समय मरीजों की संख्या में 100 फ़ीसदी का इज़ाफा हुआ है। जहां पहले प्रतिदिन 100 से 150 मरीज आते थे वहीं अब इनकी संख्या प्रतिदिन 300 के पार पहुंच गई है। वहीं वायरल फीवर भी बच्चों को अपने शिकंजे में लिए हुए हैं।

सरकारी अस्पतालों में इस समय मरीजों की संख्या में काफी बढ़ोत्तरी हुई है और इसका प्रमुख कारण है अचानक मौसम में हुआ परिवर्तन। डॉक्टर राजतिलक बताते हैं की दिन में तेज धूप निकलने के चलते अभिभावक बच्चों के प्रति थोड़ा लापरवाह हो गए। इससे की वायरल फीवर के मरीज तेजी से बढ़ने लगे।

वहीं मेडिसिन विभाग की प्रमुख डॉक्‍टर आरती लाल चन्दानी बताती हैं की गैस्ट्रो एन्ट्राइटिस से घबराने की जरुरत नहीं है लेकिन दस्त और उलटी शुरू होते ही सबसे पहले डाक्टर से परामर्श जरूर ले। उन्होंने बताया की कई लोग बच्चों को दस्त और उलटी के समय घर में रखी दवाई देना शुरू कर देते हैं जो की खतरनाक हो सकता है।

अधिक दस्त व उलटी होने से बच्चों की प्रतिरोधक क्षमता घटने लगती है और कई नयी बीमारियां पैदा हो जाती हैं। डॉ राजतिलक ने बताया कि गैस्ट्रो एन्ट्राइटिस को डायरिया का नाम भी दे सकते हैं। इस बीमारी से पीड़ित कई बच्चे हैलट के बाल रोग विभाग में भर्ती हैं जिनमें तीन बच्चों की हालत गंभीर है।


वायरल व गैस्ट्रो एन्ट्राइटिस के लक्षण –

  • पसली चलने लगना
  • तेज बुखार आ जाना
  • जुखाम होना व नाक बंद हो जाना
  • उल्टी व दस्त की संख्या अचानक बढ़ जाना


क्या करें –

  • अपने आस पास साफ सफाई का विशेष ध्यान रखें
  • दिन में हाथ कई बार धोएं
  • छोटे बच्चों को भीड़ वाले स्थानों पर न ले जाएa
  • कटे हुए फलों को न खिलाएं
  • अधिक से अधिक विटामिन वाली चीजों को खाने की कोशिश करें   

"जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555








TraffBoost.NET

Rising Stroke caricature
The Rising News Public Poll





Flicker News

Most read news

 


Most read news


Most read news