Home Kanpur News Ruckus In Rama University In Kanpur

AAP के 20 विधायकों की सदस्यता खत्म, राष्ट्रपति ने दी मंजूरी

गुरुग्राम: फिल्म पद्मावत के खिलाफ करणी सेना का विरोध प्रदर्शन

सहारनपुर: तीनों सिपाहियों के खिलाफ गैर इरादतन हत्या का केस दर्ज

CPI(M) की बैठक में जबर्दस्त हंगामा, कांग्रेस से गठबंधन पर विवाद

हम पड़ोसी पाक से अच्छे संबंध चाहते हैं लेकिन वो हरकतें नहीं रोकता: राजनाथ सिंह

नकल नहीं....तो तोड़फोड़ ही सही

Kanpur | 20-Sep-2017 03:38:06 PM | Posted by - Admin

  • पुलिस ने उपद्रवियों को खदेड़ा

   
Ruckus in Rama University in Kanpur

दि राइजिंग न्‍यूज

कानपुर।  

 

प्रदेश के कानपुर में मंगलवार को नकल करने से रोकने पर रामा विश्वविद्यालय मंधना के नर्सिग कॉलेज में छात्र-छात्राओं ने जमकर तोड़फोड़ की। नर्सिग फाउंडेशन लैब, कंप्यूटर लैब व प्रशासनिक कार्यालय को तहस-नहस कर दिया। पुलिस ने रोका तो उपद्रवी छात्र-छात्राओं ने पथराव कर दिया।

जवाब में पुलिस ने लाठियां पटककर उन्हें खदेड़ा। पथराव और बवाल में बिठूर थाने के एसएसआइ राजेश यादव, विश्वविद्यालय के गार्ड पप्पू गौड़ व चित्रांशी अवस्थी के अलावा छात्रा सोनी, सुनीता व पांच महिला सिपाही भी चोटिल हो गईं।

 

 

कॉलेज में सुबह दस बजे से जनरल नर्सिग एंड मिडवाइफरी व एक्सजेलरी नर्सिग एंड मिडवाइफरी डिप्लोमा के प्रथम, द्वितीय व तृतीय वर्ष के छात्र-छात्राओं की परीक्षा होनी थी। परीक्षा कक्ष में प्रवेश से पहले छात्र-छात्राओं के बैग बाहर रखवाए जा रहे थे। छात्र-छात्राओं ने इसका विरोध किया और जबरन बैग अंदर ले जाने लगे। शिक्षकों ने रोका तो वह हंगामा करने लगे। इस बीच सूचना पर नर्सिग कॉलेज की प्रधानाचार्य सुधा मौके पर पहुंचीं और कॉपी-किताबें, बैग आदि परीक्षा कक्ष में ले जाने पर आपत्ति जताई तो छात्र-छात्राओं ने तोड़फोड़ शुरू कर दी।

 

 

घबराई शिक्षिकाओं ने कक्ष का दरवाजा बंद कर दिया तो छात्र-छात्राओं ने दरवाजे के कांच तोड़ डाले। उपद्रवी छात्र-छात्राओं ने कॉलेज के सभी विभागों के कंप्यूटर, उपकरणों, पानी की टोटियों, फाइलों व अलमारियों को तोड़ डाला। तोड़फोड़ की सूचना पर डीआइजी सोनिया सिंह फोर्स के साथ पहुंचीं। पुलिस ने लाठियां पटककर उपद्रवी छात्र-छात्राओं को खदेड़ा तो वह पुलिस पर पथराव करते हुए छात्रावास की ओर भागे। छात्रावास से भी छात्राओं ने पत्थरबाजी की। हालांकि पुलिस के खदेड़ने के कुछ देर बाद ही उपद्रव शांत हो गया। इसके बाद पुलिस ने सभी को छात्रावास छोड़ने को कहा। पुलिस ने एक छात्रावास खाली करा लिया जबकि देर रात तक दूसरे को खाली कराने के प्रयास चल रहे थे।

 

 

रामा विश्वविद्यालय की ट्रेजरार डॉ अनु सिंह का कहना है कि जो छात्र-छात्राएं पढ़ते नहीं हैं वही नकल के पक्ष में रहते हैं। उत्पाती छात्र-छात्राओं को बख्शा नहीं जाएगा। उनके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी। उपद्रवी छात्र-छात्राओं के अभिभावकों को कॉलेज बुलाकर बात की जाएगी।

इधर बिठूर एसओ तुलसीराम पांडेय ने बताया कि तोड़फोड़ और बवाल में छात्र शमशाद वारसी, सचिन गुप्ता व नितिन को हिरासत में लिया गया है। कॉलेज प्रबंधन ने अभी कोई तहरीर नहीं दी है। तहरीर मिलने पर कार्रवाई की जाएगी।

"जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555








TraffBoost.NET

Rising Stroke caricature
The Rising News Public Poll





Flicker News

Most read news

 


Most read news


Most read news