Akshay Kumar Gold And John Abraham Satyameva Jayate Box Office Collection Day 2

दि राइजिंग न्‍यूज

आउटपुट डेस्‍क।

 

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने नई दिल्ली में वैश्विक साइबर स्पेस सम्मेलन को संबोधित करते हुए कि मौजूदा समय में डिजिटल तकनीक बड़ी भूमिका निभा रही है। इससे ना सिर्फ सेवाएं सुधर रही हैं, बल्कि शासन करने का तरीका भी सुगम हो गया है।  

पीएम मोदी के भाषण की 10 बड़ी बातें

 

  • वैश्विक साइबर स्पेस सम्मेलन को संबोधित करते हुए पीएम मोदी ने कहा तकनीक ने अब सीमाओं को तोड़ डाला है। इंटरनेट अपने आप में समावेशी प्रकृति का है, लेकिन खुले और सुलभ इंटरनेट की खोज अक्सर खतरे को बुलावा देती है। 

  • पीएम मोदी कहा कि हमें यह सुनिश्चित करने की जरूरत है कि हमारे समाज के संवेदनशील वर्ग साइबर अपराधियों के दुष्ट साजिशों के जाल में नहीं फंसें। हमें इसके लिए सजग रहने की जरूरत है।

  • मोदी ने कहा कि साइबर खतरों से निपटने के लिए हमारे पास अच्छी तरह से प्रशिक्षित और सक्षम पेशेवर हों। 

  • पीएम मोदी ने कहा कि आज के समय में हैकिंग शब्द ने रोमांचक रूप ले लिया है। हमें पहले यह सुनिश्चित करने की जरूरत है कि साइबर सुरक्षा हमारे युवाओं के कैरियर के लिये आकर्षक और व्यवहार्य विकल्प बने। 

  • पीएम मोदी ने कहा कि सरकार ने भ्रष्टाचार मिटाने और पारदर्शिता को लाने के लिए तीन फैक्टरों पर काम किया है। पहला जनधन बैंक खातों से लोगों को आर्थिक रूप से जोड़ना, दूसरा आधार कार्ड और तीसरा मोबाइल फोन से सेवाएं मुहैया कराना। 

  • पीएम मोदी ने कहा कि सरकार डिजिटल पहुंच के माध्यम से लोगों का सशक्तिकरण करने के लिए प्रतिबद्ध है और आधार की मदद से सब्सिडी को लक्षित लोगों तक बेहतर तरीके से पहुंचाने से दस अरब डालर की राशि बचाने में मदद मिली है।

  • पीएम मोदी ने दुनिया के विभिन्न देशों के प्रतिनिधियों एवं साइबर विशेषज्ञों को संबोधित करते हुए कहा कि निश्चित तौर पर एक तरफ हम निजता और खुलेपन के बीच बारीक संतुलन बनाने के साथ साथ दूसरी तरफ राष्ट्र की सुरक्षा मजबूत कर सकेंगे।

  • पीएम मोदी ने कहा कि सभी देशों को यह जिम्मेदारी लेना सुनिश्चित करना चाहिए कि डिजिटल स्पेस आतंकवाद और कट्टरपंथ की अंधकारपूर्ण ताकतों का मैदान नहीं बनना चाहिए।

  • पीएम मोदी ने कहा कि डिजिटल तकनीक ने आज काम करने का तरीका ही सुगम बना दिया है। 

  • पीएम मोदी ने कहा कि आज मोबाइल से ही बड़े से बड़े काम आसानी से हो जाता है। मोबाइल तकनीक ने पारदर्शिता को बढ़ावा दिया है।

जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555

दि राइजिंग न्यूज़

Suggested News

Advertisement

Public Poll