New Song of Sanju Ruby Ruby Released

दि राइजिंग न्यूज़

चेन्नई।

 

तमिलनाडु विधानसभा की जंग अब मद्रास हाईकोर्ट पहुंच गई है। टीटीवी दिनाकरण गुट के 18 विधायकों को अयोग्य करार दिए जाने पर मद्रास हाईकोर्ट में सुनवाई हुई। कोर्ट की ओर से अगले आदेश तक फ्लोर टेस्ट करने पर रोक लगा दी है। सुनवाई के दौरान सलमान खुर्शीद, कपिल सिब्बल, अर्यम सुंदरम जैसे वरिष्ठ वकील मौजूद हैं। वहीं अगले आदेश तक इन 18 विधानसभाओं में चुनाव नहीं होगा।

टीटीवी दिनाकरण की ओर से बहस करते हुए सीनियर वकील दुष्यंत दवे ने कहा कि स्पीकर का आदेश न्याय के खिलाफ है। उन्होंने कहा कि विधायकों को अधिकार है कि वह मुख्यमंत्री से सपोर्ट वापस ले सकें। अगर सीएम पर भ्रष्टाचार के आरोप हैं तो वो ऐसा कर सकते हैं। उन्होंने कहा कि सरकार दिल्ली से चलाई जा रही है। दवे बोले कि विधायकों को अयोग्य घोषित किए जाने के पीछे कोई ठोस कारण होना चाहिए।

तमिलनाडु स्पीकर की ओर से वकील अर्यम ने कहा कि जब तक विपक्षी दलील जमा नहीं की जाती है तब तक फ्लोर टेस्ट नहीं होगा।

 

वहीं इसी बीच राज्य के मुख्यमंत्री ई। पलानीस्वामी महापुष्करम की कावेरी नदी में डुबकी लगाने पहुंचे। इस पर टीटीवी दिनाकरण ने भी चुटकी लेते हुए कहा कि वह कितनी बार डुबकी लगा लें, लेकिन साफ होकर नहीं निकलेंगे।

अभी क्या है विधानसभा की स्थिति

 

  • कुल संख्या - 234

  • पूर्व सीएम जयललिता की सीट को छोड़कर - 233, अगर टाई होता है तो स्पीकर वोट कर सकता है।

  • बहुमत के लिए जरुरी आंकड़ा - 108

  • ई। पलानीस्वामी-पन्नीरसेल्वम गुट के पास संख्या - 111 (स्पीकर समेत)

  • टीटीवी दिनाकरण गुट - 3 विधायक

  • डीएमके - 89

  • कांग्रेस - 8

  • IUML -1

  • निर्दलीय विधायक - 2    

जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555

दि राइजिंग न्यूज़

Suggested News

Advertisement

Loading...

Public Poll