Jhanvi Kapoor And Arjun Kapoor Will Seen in Koffee With Karan

दि राइजिंग न्‍यूज

लखनऊ।

 

बदहाल बिजली की लाइनें और ट्रांसफार्मर पर कैपिसिटर। दरअसल लेसा ने ट्रांसफार्मरों पर कैपिसटर लगाकर उनकी क्षमता बढ़ाने का दावा किया है। दस किलोवाट या उससे अधिक के कनेक्शन पर भी केवीए में बिलिंग तो की जा रही है लेकिन अधिसंख्य उपभोक्ताओं ने कैपिसिटर लगाए ही नहीं है। नतीजा यह है कि खराब लाइनों व वायरिंग के वजह से उनके घर में बिजली की बिल अचानक ही बढ़ गया है। वजह है कि लाइनों की खामियों के कारण पावर फैक्टर दुरुस्त नहीं है और इस कारण से किलो वोल्ट एम्पियर में बिल ज्यादा आ रहा है।

राजाजीपुरम निवासी अजय कुमार की चक्की पर 15 किलोवाट का बिजली कनेक्शन है। अब तक 20 हजार रुपये के आसपास बिल आता था। बीते तीन माह से तीस हजार का बिल आने लगा। शिकायत की तो पता चला कि बिलिंग में बदलाव किया गया है। बढ़े बिल की समस्‍या को लेकर हुसैनगंज के अर्जुन भार्गव भी परेशान था, इनका लोड 10 किलोवाट का था तथा बिल 15- 20 हजार रुपये के बीच आ रहा था लेकिन बिजली की बिलिंग केवीए में होने के बाद उनका बिल बढ़ गया। यही समस्या लेकर दर्जनों उपभोक्ता रोजाना उपकेंद्रों पर पहुंच रहे हैं। दरअसल लोगों को कैपिसिटर लगाने के बरती जाने वाली सामान्य बातों से ही अंजान हैं। अन्यथा इससे बिलिंग कहीं बेहतर व किफायती होती है। बशर्ते पावर फैक्टर आदर्श स्थिति या उसके आसपास हों।

 

दरअसल अब दस किलोवाट या उससे अधिक विद्युत भार वाले कनेक्शनों की बिलिंग केवीए में की जाती है। इसमें पावर फैक्टर को दुरुस्त रखने के लिए कैपिसिटर लगाना जरूरी होता है। मगर कैपीसिटर न होने की स्थिति में बिजली की डिमांड व खर्च ज्यादा होता है। इस कारण से विद्युत बिल बढ़ जाता है।

कैपिटर के हैं कई फायदे

अधीक्षण अभियंता आशुतोष कुमार कैपसिटर के एक नहीं कई फायदे गिनाये। उन्‍होंने बताया कि कैपसिटर का उपयोग करने से वोल्‍टेज पूरी तरह से इंप्रूव हो जाता है, हाई, लो की समस्‍या से निजात मिल जाती है। उन्‍होंने बताया कि इससे लोड करंट घटेगा, यूनिट घटेंगी, बिजली बिल घटेगा, डिमांड कम की जा सकती है। करंट फ्लो ठीक होने से तार व उपकरण भी लंबे समय तक खराब नहीं होंगे।

10 किलोवाट के ऊपर के उपभोक्ता

  • कुल उपभोक्ता -15674

  • व्यावसायिक - 10121

  •    घरेलू -      5553

 

10 किलोवाट से अधिक का कनेक्शन लेने वाले उपभोक्ता ज्यादा बिल की शिकायत लेकर आ रहे हैं। बिल कम करने का उपाय उनके ही पास है। एलटी कैपेसिटर लगाने पर बेकार जाने वाली बिजली का वह उपयोग कर सकेंगे। इसके साथ ही उनका पावर फैक्टर कम होगा। जिससे बिल की राशि में कमी आएगी। इसके साथ ही कई और फायदे भी होंगे।

आशुतोष कुमार

मुख्य अभियंता लेसा

जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555

दि राइजिंग न्यूज़

Suggested News

Advertisement