Mahi Gill Regrets Working in Salman Khan Film

दि राइजिंग न्यूज़

आउटपुट डेस्क।

 

केवल खाना बनाना आर्ट नहीं है, बल्कि उसे स्टाइल से परोसना भी एक कला है। कई बार ऐसा होता है कि भले ही हमें भूख ना हो, लेकिन डाइनिंग टेबल पर खाना सजा देख हमारा खाने का मूड बन जाता है। रेस्त्रां या पार्टी में ही नहीं, घर के खाने में भी ये बात जरूर होनी चाहिए। इसके लिए आप एक से बढ़कर एक खूबसूरत बर्तन तो खरीदते ही हैं, थोड़ी बहुत क्रिएटिविटी खाना सर्व करते वक्त भी दिखाई, तो सोने पे सुहागा।

 


बच्चों के केस में ये सबसे ज्यादा जरूरी है। खासकर उनके लिए जो खाना खाने में नखरे दिखाते हैं। खाने में उनकी रुचि जगानी है तो उनकी थाली कुछ यूं सजाएं...

बच्चों को जंक फूड से जितना लगाव होता है, उतनी ही नफरत वो हरी सब्जियों और फलों से करते हैं तो अगर आप बच्चे की प्लेट में चीज़ें नॉर्मल तरीके से सर्व करेंगे तो शायद वो नखरे दिखाए, लेकिन अगर आप उन्ही चीज़ों को पैटर्न में सजाएं तो वो उनकी तरफ जरूर आकर्षित होंगे।

किसी का मूड ठीक करने का बेस्ट तरीका है उसे उसका मन पसंद खाना खिलाना। अगर बच्चा किसी बात को लेकर उदास है और आपके लाख समझाने के बाद भी उसका मूड ठीक नहीं हो पा रहा तो उन्हें उनकी फेवरेट फूड खाने को दें। साथ ही उसे रंग बिरंगे अंदाज में सर्व करें, चीज़ों को उनके आकार के हिसाब से प्लेट में कुछ यूं सर्व करें कि वो कोई सीनरी या उनका फेवरेट कार्टून कैरेक्टर जैसा नजर आए।

अगर आपके बच्चे को सैलड खाना बिलकुल पसंद नहीं, और आपको भी कोई दमदार आइडिया नहीं सूझ रहा, तो सबसे बढ़िया तरीका है कि आप अपने बच्चे से ही बोलें कि वो सैलड को अपने हिसाब से डेकोरेट करे। आप उन्हें सारी चीज़ें कट कर के दे दें, या फिर उनसे पूछें कि उन्हें खीरा, टमाटर या फिर कोई भी आइटम किस शेप में चाहिए। इससे तीन काम साथ साथ हो जाएंगे, बच्चे की शेप्स को लेकर समझ विकसित होगी, वो खेल-खेल में इन्हें सीख लेगा। साथ ही अगर वो खुद प्लेट सजाएगा तो उसे खाने के लिए भी उत्साहित होगा। सबसे बड़ी बात ये कि इस तरीके से आपकी आपके बच्चे के साथ बॉन्डिंग मजबूत होगी। 

बच्चे का स्वाद डेवलप करने के लिए जरूरी है कि आप उसे सारे स्वाद चखने का पूरा मौका दें। इसलिए भले ही आपके बच्चे को नमकीन खाना खाना पसंद ना हो, तो भी उसे मीठे पैनकेक की जगह नमकीन पैनकेक सर्व करें। 

एडिबल डेकोरेटिव आइटम जैसे जानवर की आंखें, फूल, फर- ऐसी कई चीजें बाजार में मौजूद हैं, या ऑर्डर देने पर उपलब्ध हो सकती हैं। अगर आप बच्चे की पार्टी में भी टेबल खास तरीके से सजाना चाहती हैं और उसके लिए कुछ पैटर्न सोच रखा है तो डेकोरेटिव चीज़ें (जो खाई भी जा सके) उनका ऑर्डर आप किसी बेकरी में पहले भी दे दें।

प्रोटीन बच्चे के आहार का सबसे अहम हिस्सा है। लेकिन अगर आप उन्हें उबला अंडा यूं ही छील कर खाने को दे दें, तो उनकी ना नुकुर तय है। इसलिए उनकी प्लेट में चीज़ों को यूं ही सीधे-सीधे परोसने की बजाय किसी पैटर्न में सर्व करें।

 बच्चों को रंग बिरंगी चीज़ें आकर्षित करती हैं इसलिए कोशिश करें कि आप बच्चों का खाना सफेद रंग की प्लेट में सर्व करें। इसमें आप जो भी चीज़ें परोसेंगी उनका रंग निखर कर आएगा।

जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555

दि राइजिंग न्यूज़

Suggested News

Advertisement

Loading...

Public Poll