Home Lucknow News CM Yogi Adityanath Arrives At PAC Installation Day In Lucknow City

AAP के 20 विधायकों की सदस्यता खत्म, राष्ट्रपति ने दी मंजूरी

गुरुग्राम: फिल्म पद्मावत के खिलाफ करणी सेना का विरोध प्रदर्शन

सहारनपुर: तीनों सिपाहियों के खिलाफ गैर इरादतन हत्या का केस दर्ज

CPI(M) की बैठक में जबर्दस्त हंगामा, कांग्रेस से गठबंधन पर विवाद

हम पड़ोसी पाक से अच्छे संबंध चाहते हैं लेकिन वो हरकतें नहीं रोकता: राजनाथ सिंह

11 साल बाद पीएसी स्‍थापना दिवस पर पहुंचे सीएम  

Lucknow | 17-Dec-2017 13:10:22 | Posted by - Admin
  • एटीएस, बैंड, खेल और हथियारों की प्रदर्शनी ने लुभाया
  • सीएम ने पीएसी को बताया सबसे विश्‍वसनीय बल
   
CM Yogi Adityanath Arrives at PAC Installation Day in Lucknow City

दि राइजिंग न्‍यूज

आशीष सिंह

लखनऊ।

 

पिछले 11 वर्षों से प्रति वर्ष मुख्‍यमंत्रियों को पीएसी स्‍थापना दिवस में आने का निमंत्रण भले ही जाता रहा हो लेकिन वोटबैंक की राजनीति के कारण यहां पर कोई आने का साहस नहीं जुटा पाता था। इससे ना केवल पीएसी को निराशा हाथ लगती बल्कि उत्‍साह में भी फीकापन आता था। हालांकि वह शुभ घड़ी रविवार को आई जब महानगर के 35वीं वाहिनी पीएसी में 69वें स्‍थापना दिवस के अवसर पर मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ ने भाग लेते हुए ना केवल पीएसी का मान बढ़ाया बल्कि इसे सबसे विश्‍वसनीय बल करार दे दिया।

 

फोटो- अभय वर्मा

 

 

इस दौरान यहां मौजूद अधिकारियों और जवानों का उत्‍साह कई गुना बढ़ गया। इसी जोश से के बीच एटीएस कमांडो ने जबरदस्‍त प्रदर्शन करते हुए सभी दर्शकों का मन मोह लिया। अपर पुलिस महानिदेशक पीएसी राजकुमार विश्वकर्मा ने मुख्‍यमंत्री को पीएसी कैप देते हुए स्‍वागत किया। समारोह के दौरान लांस एंजेल्‍स में पीएसी चंद्रभान सिंह कुशवाहा ने खेलों में उम्‍दा पदर्शन किया था। इसके लिए मुख्‍यमंत्री ने उन्‍हें ढाई लाख रुपये का पुरस्‍कार देकर सम्‍मानित किया।

 

फोटो- अभय वर्मा

 

फोटो- अभय वर्मा

 

फोटो- अभय वर्मा

 

 

अपने संबोधन में मुख्यमंत्री ने कहा कि पीएसी ने घुसपैठ, नक्‍सलवाद, उग्रवाद, आतंकवाद, चुनाव, बचाव दल, कानून व्‍यवस्‍था आदि में बेहतरीन काम किया है। जहां पर भी इस बल को भेजा गया वहां पीएसी ने अपने अदम्‍य साहस का परिचय दिया है। बीते दिनों गुजरात में सकुशल संपन्‍न हुए चुनाव में भी पीएसी के काम को उन्‍होंने याद करते हुए बधाई दी। 13 दिसंबर 2001 में संसद भवन में यूपी पीएसी के जवान द्वारा आतंकी को मार गिराने की घटना को उन्‍होंने जीवंत करते हुए जवानों में उत्‍साह भर दिया। मुख्‍यमंत्री ने कहा कि पीएसी बल त्यौहारों और सांस्कृतिक कार्यक्रमों को भी बाखूबी सम्पन्न कराता रहा है।

 

फोटो- अभय वर्मा

 

फोटो- अभय वर्मा

 

फोटो- अभय वर्मा

 

 

फोटो- अभय वर्मा

 

वह चाहे कुम्भ, अयोध्‍या, मथुरा, काशी ही क्‍यों ना रहे हों। हर जगह पीएसी की भूमिका सबसे आगे हैं। वीवीआइपी से लेकर न्यायालयों की सुरक्षा तक में यह बल सर्वोत्‍तम है। जवानों ने न केवल उपद्रियों को पीटा है बल्कि राहत बचाव कार्य में लोगों को गले से भी लगाया है। इसके पहले पीएसी जवानों ने मुख्‍यमंत्री को सलामी दी। बैंड और आतंकी घटनाओं से निपटने से लेकर मलखंभ और कुश्‍ती के आयोजनों ने मुख्‍यमंत्री को ताली बजाने पर मजबूर कर दिया। इस दौरान प्रमुख सचिव गृह अरविन्द कुमार, पुलिस महानिदेशक सुलखान सिंह, आईजी पीएसी मध्‍य जोन ए सतीश गणेश, डीआईजी प्रवीण कुमार, प्रशासनिक अधिकारियों में जिलाधिकारी कौशलराज शर्मा सहित कई अधिकारी मौजूद रहे।

 

फोटो- अभय वर्मा

 

 

जमीन से निकले जवान

जिस मैदान पर कुछ ही देर पहले मुख्‍यमंत्री ने परेड का निरीक्षण किया और उसके बाद एक-एक बैंड ने प्रदर्शन करते हुए दर्शकों की ताली बटोरी उसी मैदान पर जमीन के नीचे जवान ऐसे छिपे रहे जिसकी जानकारी किसी को नहीं हो पाई। प्रदर्शन के दौरान जैसे ही जवान जमीन से बाहर निकले सभी की तालियां बज उठीं और मुंह से वाह निकल गया। एटीएस के आतं‍की सर्ज ऑपरेशन ने सभी का सीना गर्व से चौड़ा कर दिया।

 

फोटो- अभय वर्मा

 

 

अधिकारियों ने दिया खास महत्‍व

11 साल के बाद कोई मुख्‍यमंत्री पीएसी के स्‍थापना समारोह में पहुंचा था। लिहाजा अधिकारियों से लेकर स्‍कूली बच्‍चों और जवानों ने अपने खास अतिथि के लिए पलक पांवड़े बिछा दिया। पूरे परिसर को जहां फूलों से सजाया गया था तो वहीं मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को बैठने के लिए स्‍पेशल लकड़ी की भगवा कुर्सी का प्रबन्ध किया गया था। इतना ही नहीं कुर्सी के ऊपर भगवा रंग का तौलिया भी लगाया गया। स्‍मृति चिन्‍ह के रूप में भी मुख्‍यमंत्री को कालभैरव की मूर्ति सौंपी गई जो उन्‍हें बेहद प्रिय है। मुख्‍यमंत्री ने भी अधिकारियों की मेहनत को पूरा सम्‍मान देते हुए प्रदर्श‍नी के प्रत्‍येक स्‍टॉल को देखा और जाने से पहले अधिकारियों के साथ ग्रुप फोटो भी खिंचवाई।  

 

फोटो- अभय वर्मा

 

फोटो- अभय वर्मा

"जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555








Flicker News

Most read news

 


Most read news


Most read news