Sapna Choudhary New Song Vidaai Viral On Youtube

दि राइजिंग न्‍यूज

लखनऊ।

 

ब्राइटलैंड इंटर कॉलेज में हुई मासूम छात्र के साथ मारपीट के मामले पर पर्दा डालने के साथ ही शुरूआती दौर में ही स्‍कूल प्रबंधन ही पुलिस की भूमिका में आ गया। घटना के बाद स्‍कूल प्रबंधक ना केवल आरोपी छात्रा के घर पहुंच गए बल्कि उसके फिंगर प्रिंट्स तथा बाल के नमूने तक ले लिए। स्‍कूल प्रबंधन का यह पुलिसिया रोल किसी के गले नहीं उतर रहा है। पुलिस भी इस मामले में साफ नहीं बोल पा रही है। जबकि स्‍कूल प्रबंधन का यह रुख भी सवालों के घेरे में है।

 

एक वीडियो में स्‍कूल प्रबंधन आरोपी छात्रा से बार-बार एक ही सवाल पूछ रहा है कि उसने जो किया है वह बता दे। जवाब में छात्रा एक ही जवाब देती रही कि वह कुछ नहीं जानती। प्रबंधन उसे अपनी कलम की ताकत और सहयोग करने का दबाव भी बनाया। इतना ही नहीं बाद में कुछ होने पर अपनी जवाबदेही से इनकार और फिर कुछ ना करने का हवाला भी दिया जाता रहा। हालांकि इतना सब होने के बाद भी छात्रा एक ही रट लगाए रही कि जब  उसने कुछ किया ही नहीं तो वह बताए क्‍या।

यह था मामला-

बीते मंगलवार को कॉलेज की ही एक छात्रा ने कक्षा एक के छात्र ऋतिक को बाथरूम में ले जाकर चाकू मारते हुए घायल कर दिया था। इसके बाद छात्र का हाथ पैर बांधकर उसे बाथरूम में बंद कर वह भाग गई। जैसे तैसे बच्‍चे को ट्रॉमा सेंटर भेजा गया हालांकि स्‍कूल प्रबंधन मामले को छिपाने के लिए लगातार पीडि़त परिजनों पर भी दबाव बनाए रखा लेकिन मीडिया में घटना की जानकारी आने के बाद थाने में तहरीर दी थी। अभि‍भावकों के प्रदर्शन और नारेबाजी के बीच पुलिस ने प्रबंधक और प्रधानाचार्य को गिरफ्तार किया था। बाद में उन्‍हें जमानत मिल गई थी।

 

आरोपी बच्‍ची को मिली जमानत-

ऋतिक पर क‍थित हमला के मामले में आरोपी छात्रा को जुवेनाइल जस्टिस बोर्ड ने जमानत दे दी है। उसे बाराबंकी के बाल संरक्षण गृह से रिहा कर दिया गया है। सुनवाई के दौरान बोर्ड ने दस्‍तावेजों के आधार पर आरोपी छात्रा की आयु 10 वर्ष 11 माह 28 दिन है। न्‍यायालय ने 30 जनवरी तक के लिए बच्‍ची को अंतरिम जमानत दे दी है। इसके बाद रेगुलर बेल पर दोबारा सुनवाई की जाएगी।

“आरोपी छात्रा के साथ स्‍कूल प्रबंधन ने पूछताछ और जो भी कुछ किया है वह मीडिया के द्वारा पता चला है। हालांकि यह गलत है ऐसा नहीं होना चाहिए। यदि परिजन इसकी शिकायत करते हैं तो कानूनी कार्रवाई होगी।”

हरेंद्र कुमार

एसपीटीजी

जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555

दि राइजिंग न्यूज़

Suggested News

Advertisement

Public Poll