Home Kanpur News Updates On Kanpur Traffic System

बीजेपी ने चुनाव लड़ने के लिए करोड़ों रुपये दिए- कांग्रेस

हिमाचल के किन्नौर में भूकंप के झटके, तीव्रता 4.1

कुमारस्वामी से मुलाकात के बाद तय होगी आगे की रणनीतिः गुलाम नबी आजाद

गहलोत और वेणुगोपाल ने राहुल को कर्नाटक के ताजा हालात की जानकारी दी

कर्नाटक चुनाव में भाजपा ने 6000 करोड़ रुपये खर्च किए- आनंद शर्मा

सुरक्षा के मद्देनज़र अब बाहरी वाहनों का भी कटेगा ई-चालान

Kanpur | Last Updated : May 10, 2018 12:27 PM IST

Updates on Kanpur Traffic System


दि राइजिंग न्‍यूज 

कानपुर।

 

यातायात को चुस्त और दुरुस्त बनाने लिए ट्रैफिक पुलिस आज से लगातार बढ़ रही दुर्घटनाओं और नियमों की अनदेखी करने वालों पर कार्यवाई करने को तैयार हो गयी है। शहर में लोकल गाड़ियों के साथ  अब बाहरी वाहनों पर भी कार्यवाई की जाएगी। जिसके तहत इंटीग्रेटेड ट्रैफिक मैनेजमेंट सिस्टम (आइटीएमएस) को नेशनल बेस डेटा से जोड़ दिया गया है। यानी अब तक जो यूपी 78 वालों का ही इस सिस्टम के ज़रिए ई-चालान होता था, वहीं नेशनल बेस डाटा के जुड़ जाने से अब आज से बाहरी वाहनों का भी ई-चालान होगा।

 

शहर के दो मुख्य चौराहों- बड़े चौराहा और विजय नगर, जहां ज्यादा ट्रैफिक की समस्या बनी रहती है, इन्हें कंट्रोल रूम से जोड़ा गया है। वहां पीटूजेड कैमरे लगाकर बाहरी वाहनों का ई-चालान शुरू हो गया। गुरुवार (10 मई) से अब कोई भी बाहरी वाहन चालक यदि नियम तोड़ेगा उसका ई-चालान होगा।

ट्रैफिक विभाग घर भेजेगा चालान

किसी भी वाहन का ई-चालान होने की सूरत पर उसकी आरसी में दर्ज पते पर ही ट्रैफिक विभाग डाक के माध्यम से उसके पते पर चालान भेजेगा। वहीं, चालान के जो भी नियम होंगे वह हिंदी में लिखे जाएंगे।

 

स्टॉप लाइन की कीमत को समझें

स्टॉप लाइन क्रॉस करने में अक्सर वाहन चालक नियमों की धज्जियां उड़ाते हैं। वाहन चालक स्टॉप लाइन और जेब्रा लाइन को नजरअंदाज न करें अन्यथा उनका चालान निश्चित है। जिसके बाद अब वहां पर अंग्रेजी में स्टॉप लिखा जाएगा, क्योंकि अक्‍सर लोग जल्दबाजी में रेड सिग्नल क्रॉस कर जाते हैं।

केडीए उपाध्यक्ष सौम्या अग्रवाल ने बताया कि नगर निगम को आइटीएमएस हैंडओवर कर दिया है। जो कमियां है, उन्हें सुधारा जा रहा है। वहीं, मंडलायुक्त सुभाष चन्द्र शर्मा ने बताया कि कंट्रोल रूम का संचालन ट्रैफिक विभाग के हाथ में होगा। शहर के लोगों को यातायात नियमों को समझना चाहिए और उसका पालन करना चाहिए।



" जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555 "


Loading...


Flicker News

Loading...

Most read news


Most read news


rising@8AM


Loading...