Akshay Kumar Appears for Fund Collection for Pulwama Attack Martyr Families

दि राइजिंग न्यूज़

कानपुर।

आधुनिक हो चुकी जीवनशैली में इंटरनेट ने इस कदर अपना प्रभाव जमा लिया है कि अब बच्चों के साथ बड़े बुजुर्ग भी पेन-कॉपी को छोड़कर गैजेट्स से जूझ रहे हैं। इसी को लेकर सपोर्ट फॉउन्डेशन द्वारा शहर के विभिन्न स्कूलों व इंस्टीट्यूट में ब्रेन शार्प करने की कार्यशाला का आयोजन किया जा रहा है। इसी क्रम में आज रामादेवी स्थित आरजी एकेडमी स्कूल में इंस्टीट्यट फार ब्रेन शार्पनेस द्वारा एक कार्यशाला का आयोजन किया गया।

...मिल सकता है नया मुकाम

इस कार्यशाला में मुंबई से आये ग्राफोलोजिस्ट आईबीएस के फाउंडर मिहिर नारिचानिया और हीरल नारिचानिया ने बच्चों और उनके अभिभावकों व टीचर्स को उनके हस्तलेख व हस्ताक्षरों के माध्यम से उनके निजी जीवन के व्यक्तिगत व व्यवहारिक जीवन शैली की जानकारी दी। कार्यशाला में बताया गया कि जीवन मे परिवर्तन लाने के लिए मैजिक की जरूरत होती है। मैजिक तभी होता है जब हमारे जीवन मे कोई लॉजिक होता है। लॉजिक को मैजिक में परिवर्तित कर हम अपने जीवन को एक उच्चस्तरीय मुकाम दे सकते हैं।

ट्रेनर हीरल नारिचानिया ने बताया कि 100 से ज्यादा बच्चे अब तक सेमिनार का हिस्सा बन चुके हैं। हस्ताक्षर देख यह पता लगाया जा सकता है कि बच्चा का स्वभाव किस तरह का है, क्या सोचता है। आजकल बच्चों में काफी गुस्सा रहता है, उनका पढ़ाई में मन नहीं लगता है ,पेरेंट्स की बात नहीं सुनते हैं, गैजेट्स से घिरे रहते हैं। इसलिए उनके कांफिडेंस लेवल को ग्रोथ करने के लिए मोटिवेट टिप्स दिए गए हैं। जिससे बच्चों का आत्मविश्वास काफी बढ़ सकता है। अल्फाबेट के जरिये शब्दों का चयन कर इसे इम्प्रूव किया जा सकता है। एक्सपर्ट ग्राफोलॉजिस्ट मिहिर ने बताया कि आज के समय में बच्चों और अभिभावक के बीच दूरियां बढ़ती जा रही हैं। इसलिए हम सभी ने बच्चों के पेरेंट्स को भी मोटिवेट किया है। छात्रा पूर्वी ने बताया कि मुझे मेरे हस्ताक्षर से अपनी जीवनशैली मालूम चली। मेरे साइन को देखकर उन्होंने कहा कि आपका आत्मविश्वास कम होता जा रहा है, आप पास्ट के बारे में ज्यादा सोचती हैं और डिप्रेशन में रहती हैं। यहां एकपर्ट्स ने हस्ताक्षर सही ढंग से करने के टिप्स दिए और मेरा कांफिडेंस लेवल बढ़ाया।

 

जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555

दि राइजिंग न्यूज़

Suggested News

Advertisement