Actress katrina Kaif and Mouni Roy Visited Durga Puja Pandal

दि राइजिंग न्‍यूज

कानपुर।

 

15 अगस्त आते ही बाजारों में तिरंगे की रौनक दिखाई देने लगी है। आलम यह है कि हर कोई तिरंगे के रंग में रंग जाने को आतुर दिखाई दे रहा है। वहीं, बाजारों में इस बार तिरंगे झंडों से लेकर टीशर्ट, बेच, हैट आदि सामान खूब बेचे जा रहे हैं। हालांकि, योगी सरकार के प्लास्टिक बैन के बाद इसकी मार साफ तौर पर तिरंगे झंडा पर पड़ी है। इसलिए इस बार प्लास्टिक के झंडे, बैनर बाजार से नदारद दिखाई दे रहे हैं।

 

 

15 अगस्त को लेकर बाजारों में तिरंगे से दुकानें सज गयी हैं। जगह-जगह खूब तिरंगे की खरीददारी करने में जुटे हुए हैं। कानपुर के मेस्टन रोड स्थित चौक मार्केट में तिरंगा झंडों की दुकानें सज गयी हैं। जहां तिरंगे के रंग में रंगी कई वस्तुएं दुकानों में उपलब्ध हैं। ये तिरंगे के रंगे में रंगी हुई सुंदर चीज़ें लोगों के आकर्षण का केंद्र बनी हुई हैं।

 

 

आ गई आज़ादी के दीवानों की याद

साथ ही इस बार तिरंगे के रंग में टी-शर्ट्स, मालाएं, ब्रेसलेट, हैट्स, गुब्बारे खूब बिक रहे हैं। दुकान पर महिलाओं ने अपने बच्चे के लिए टी-शर्ट्स खरीदी तो वहीं युवाओं ने ब्रेसलेट और हैट्स खरीदें। 15 अगस्त के पूर्व बाजारों में जिस तरह से खादी के कपड़ों से निर्मित तिरंगे झंडों की भरमार थी वहीं विभिन्न प्रकार कपड़ों पर बने तिरंगे ने बरबस ही आजादी के उन दीवानों की याद दिला दी जो शहर की गलियों में तिरंगें फहराते और वंदेमातरम् का नारा लगाते हुए दौड़ा करते थे।

 

 

जीएसटी से पड़ा है व्यापार पर असर

प्लास्टिक की शीटों के बजाय कपड़ों पर बने तिरंगे ने यह अहसास करा दिया है कि अब शहर को प्रदूषण मुक्त करने में आजादी के दीवाने भी अपना योगदान दे रहे हैं और कपड़े और कागज के बने तिरंगे ही लहराते नजर आएंगे। उधर, दुकानदार राजेश का कहना है कि प्लास्टिक समाप्त होने से कपड़ों के तिरंगे बनने से खर्च तो बढ़ रहा है और इस पर जीएसटी की मार भी हम लोगों को झेलनी पड़ रही है। लोगों की डिमांड है कि सस्ता माल दिया जाए।

व्यापार पर असर तो पड़ा ही है लेकिन इसके बावजूद हमें खुशी है कि हमारे फिर वही पुराने दिन लौट आये हैं जब कपड़े के तिरंगे लेकर आज़ादी के दीवाने अपनी अहिंसा की लड़ाई लड़ा करते थे।

 

जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555

दि राइजिंग न्यूज़

Suggested News

Advertisement