Swara Bhaskar Speaks on Her Disabilities

दि राइजिंग न्‍यूज

कानपुर।

 

शुक्रवार को उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षक संघ कानपुर नगर के तत्वाधान में सरकार के द्वारा शिक्षकों के साथ वादाखिलाफी के विरोध में एक विशाल धरना दिया गया। यह धरना जिला विद्यालय निरीक्षक कार्यालय कानपुर में एमएलसी राजबहादुर सिंह चंदेल के नेतृत्व में दिया गया। धरने में समस्त शिक्षक मौजूद रहे। वहीं, आज प्रदेश के समस्त जिला विद्यालय निरीक्षक कार्यालयों में धरने दिए जा रहे हैं।

 

 

किया जाएगा जेल भरो आंदोलन

इस धरने के दौरान एमएलसी राजबहादुर सिंह चंदेल ने कहा कि लगातार शिक्षकों के साथ न्यायपूर्ण कार्य नहीं हो रहा है। उन्‍होंने कहा कि अगर वित्तविहीन शिक्षकों की सेवा नियमावली और सम्मानजनक मानदेय का भुगतान और पुरानी पेंशन योजना बहाल न की गई तो सरकार के खिलाफ जेल भरो आंदोलन किया जाएगा।

 

 

चंदेल ने बताया कि कई बार शासन से इस बारे में बात हो चुकी है और उन्होंने हर बार आश्वासन की ही बात कही, लेकिन एक साल से केवल बात ही कि जा रही है मांगें नहीं सुनी जा रही। अब सरकार से विश्वास उठ चुका है।

जिला अध्यक्ष अशोक सचान ने बताई आठ प्रमुख मांगें-

  • मान्यता की धारा में परिवर्तन कर वित्तविहीन शिक्षकों की सेवा नियमावली निर्मित कर सम्मानजनक मानदेय का भुगतान बैंक से हो।

  • नई पेंशन योजना समाप्त कर पुरानी पेंशन योजना लागू की जाए।

  • कोषागार से वेतन आहरित कर रहे शिक्षकों का विनीयमतिकर्ण किया जाए।

  • माध्यमिक शिक्षकों और कर्मचारियों को चिकित्सीय सुविधा का लाभ दिया जाए।

  • राजकीय शिक्षकों की भांति सीटी ग्रेड की सेवाओं को जोड़कर एलटी ग्रेड में संविलियन का लाभ दिया जाए।

  • एलटी ग्रेड के शिक्षकों को प्रोन्नत वेतनमान हेतु स्नातकोत्तर की उपाधि की बाध्यता को समाप्त किया जाए।

  • आमेलित विषय विशेषज्ञ को उनकी पूर्व की सेवाओं का लाभ दिया जाए।

  • माध्यमिक व्यवसायिक शिक्षकों और कम्प्यूटर अनुदेशकों को रिक्त पदों के सापेक्ष नियुक्त किया जाए।

जिला अध्‍यक्ष सचान ने कहा कि यदि हमारी मांगें नहीं मानी गईं तो आगे 10 सितंबर को कानपुर मंडल में संयुक्त शिक्षा निदेशक के पास धरना दिया जाएगा। वहीं, पांच अगस्त को लखनऊ में आगे की रणनीति तय की जाएगी।

 

जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555

दि राइजिंग न्यूज़

Suggested News

Advertisement