Golmal Starcast Will Be in Cameo in Ranveer Singh Simba

दि राइजिंग न्यूज़

कानपुर।

 

बीती नौ मई को भीम आर्मी के जिलाध्यक्ष कमल वालिया के छोटे भाई सचिन वालिया की सरेआम गोली मारकर हत्या कर दी गई थी। कासगंज में सफाई विवाद को लेकर एक व्यक्ति को गोली मारने का मामला सामने आया था। बदायूं में गेहूं न काटने को लेकर एक दलित को बांध कर पीटे जाने का मामला भी खूब सुर्ख़ियों में रहा। ये सभी मामले दलितों से जुड़े हुए हैं। इन सभी के मद्देनज़र शुक्रवार को भारतीय दलित पैंथर के लोगों ने कलेक्ट्रेट पहुंचकर दलितों पर हो रहे अत्याचारों के खिलाफ राज्य सरकार के खिलाफ एसीएम को ज्ञापन सौंपा।

दिखावा कर रही है सरकार

शुक्रवार को भारतीय दलित पैंथर के अध्यक्ष धनी राम की अगुआई में सैकड़ों दलित कलेक्ट्रेट पहुंचे जहां राज्य सरकार का विरोध करते हुए एसीएम को ज्ञापन सौंपा गया। अध्यक्ष धनीराम ने मांग करते हुए बताया कि प्रदेश में दलित अब सुरक्षित नहीं हैं और इसकी जिम्मेदार राज्य सरकार है। इनकी मानसिकता सही नहीं है। सरकार केवल मीठी-मीठी बातें करके दलितों को धोखा देने का काम कर रही है। हमारी मांग है कि सहारनपुर में जो सचिन वालिया की हत्या हुई है, उनके हत्यारों को जल्द से जल्द गिरफ्तार किया जाए। वहीं सचिन वालिया के परिजनों को 25 लाख रुपए का मुआवजा भी दिया जाए। साथ ही पीड़ित परिवार के एक सदस्य को नौकरी भी मुहैया करवाई जाए।

कासगंज में भी सफाई विवाद के मामले में सख्त कार्यवाई की जाए और बदायूं-लखनऊ की घटनाओं पर भी त्वरित कार्यवाई का सरकार आश्वासन दे।

जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555

दि राइजिंग न्यूज़

Suggested News

Advertisement