Anushka Sharma Sui Dhaaga Memes Viral on Social Media

दि राइजिंग न्‍यूज

कानपुर।

 

गुरुवार को साकेत नगर स्थित जागरण इंस्टीट्यूट ऑफ मैनेजमेंट में 2018-19 सेशन के पीजीडीएम व एमसीए के नव प्रवेशित छात्र-छात्राओं के लिए एक ओरिएंटेशन प्रोग्राम का आयोजन किया गया। कार्यक्रम का शुभारंभ जागरण समूह के अध्यक्ष योगेंद्र मोहन गुप्ता और सीईओ डॉक्टर जे एन गुप्ता जागरण एजुकेशन फॉउंडेशन द्वारा दीप प्रज्वलित कर किया। वहीं, इस दौरान छात्र-छात्राओं को इस नई पारी की शुरुआत करने के कुछ टिप्स भी दिए गए।

 

 

आपका विज़न एकदम साफ हो

इस अवसर पर डॉक्टर जे एन गुप्ता ने स्टूडेंट्स को संबोधित करते हुए कहा कि परीक्षा उत्तीर्ण करना ही सब कुछ नहीं है। पढ़ाई के लिए अपना विज़न बहुत क्लीयर रखें। किसी भी क्षेत्र में सफलता पाने के लिए व्यक्ति को अपने कार्य क्षेत्र में उतरना पड़ता है और उस वक्त उसका एक ही लक्ष्य हो, जिसमें उसे पाने की ललक दिखाई देनी चाहिए। साथ ही उन्होंने कहा कि मेहनत वह सुनहरी चाबी है जो भाग्य के दरवाजे खोलती है।

वहीं, इस अवसर पर जागरण समूह के अध्यक्ष योगेंद्र मोहन गुप्ता ने छात्रों को संबोधित करते हुए कहा कि आप सभी अपने बढ़ते हुए करियर के द्वार पर खड़े है। सीखने की ललक होनी चाहिए जितना सीखेंगे उतना आगे बढ़ेंगे केवल शैक्षिक ज्ञान ही इसके लिए काफी नहीं बल्कि आगे बढ़ने के लिए खुद में आत्मविश्वास होना बहुत ज़रूरी है। इसलिए हार्ड वर्क करते रहिए निश्चित सफलता मिलेगी।

एप्टिट्यूड और एटीट्यूड कितना जरूरी

प्रोफेसर नवीन अरोड़ा ने बताया कि ये प्रोग्राम पीजीडीएम और एमसीए के नव प्रवेशित स्टूडेंट्स के लिए किया गया है। इसका उद्देश्य यह है कि इसमें छात्रों को बताया गया है कि इन दो साल या तीन साल के जो कोर्स हैं, उसकी क्या इम्पोर्टेन्स है जिससे लाइफ में आगे बढ़ा जा सके। किस तरह फैकल्टी को सपोर्ट करना है और अपने कोर्स में व्यवहार कैसा होना चाहिए जिसको लेकर टिप्स दिए गए। जिससे वह जब यहां से जाए तो कंपनी उनसे क्या आशा करती है क्या स्किल्स होने चाहिए इन सभी बिन्दुओं को बताया गया।

साथ ही बताया गया कि स्टूडेंट्स का एप्टीट्यूड और एटीट्यूड ये कितना जरूरी है और ये डिसाइड करते हैं कि लाइफ में स्टूडेंट कितना ऊंचाई तक जाएंगे।

 

 

इस दौरान यहां के पूर्व छात्रों ने भी इस प्रोग्राम में शिरकत की, जिसमें अंशुमान गुप्ता, नीतीश आनन्द, भावनपुरी, दयाल दर्शन जो अब अच्छी कंपनियों में कार्यरत हैं। इन सभी ने अपने अनुभव नए प्रवेशित छात्रों को बताए। पूर्व छात्रों ने अपने समय की गतिविधियों को छात्रों के समक्ष रखा और उन्हें कैसे आगे कार्य करना है, उससे अवगत कराया। कैसे कोर्स के समय बिहेव करना है जब कंपनी आपको रिक्रूट करती है। सफलता के लिए क्या-क्या स्किल होना चहिए ये सब टिप्स दिए।

ई लाइब्रेरी से संबंधित जानकारी भी दी

साथ ही बताया कि बेहतर मैनेजमेंट के लिए टाइम मैनेजमेंट, स्ट्रेस मैनेजमेंट और कम्‍युनिकेशन स्किल बहुत महत्वपूर्ण है, जीवन में आगे बढ़ने के लिए। प्रोफेसर नवीन अरोड़ा ने बताया कि प्लेसमेंट के लिए कंपनी स्टूडेंट्स में क्या देखती है, जिसके लिए आपकी स्किल पॉवर और पर्सनालिटी का भी अहम रोल रहता है। टेक्निकल और एकेडमिक दोनों का ज्ञान आवश्यक है। ई लाइब्रेरी से सम्बंधित जानकारी भी दी गयी।

वहीं, संस्थान की डायरेक्टर डॉक्टर दिव्या चौधरी ने इस अवसर पर बताया कि पीजीडीएम और एमसीए का नया बैच तीन अगस्त से शुरू हो रहा है। इस अवसर पर सभी छात्र छात्राओं के उज्ज्वल भविष्य के लिए शुभकामनाएं भी दी।

इस दौरान डॉक्टर अनिल सिंह निधि माथुर, एसपी त्रिपाठी, प्रतीक दुबे समेत फैकल्टी के कई सदस्य मौजूद रहे।

जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555

दि राइजिंग न्यूज़

Suggested News

Advertisement

Public Poll