Akshay Kumar and Priyadarshan Donated to Save Flood Affected People in Kerala

दि राइजिंग न्‍यूज    

कानपुर।

 

बीते दो दिन पहले नौबस्ता स्थित हंसपुरम इलाके के बड़ौदा उत्तर प्रदेश ग्रामीण बैंक में फिल्मी स्टाइल में बमों से हमला करते हुए लूट की सनसनीखेज घटना को अंजाम दिया गया था। इस वारदात को अंजाम देने वाले दो आरोपियों को पुलिस की क्राइम ब्रांच ने गिरफ्तार कर लिया है, जबकि एक लुटेरा अब भी फरार है।

वायरल वीडियो की मदद से लुटेरों तक पहुंची पुलिस

बीते दिनों नौबस्ता के हंसपुरम में हमीरपुर हाइवे स्थित बड़ौदा उत्तर प्रदेश ग्रामीण बैंक में बमबाजी करते हुए दिनदहाड़े चार लाख चालीस हजार सात सौ दस रुपये लूट की सनसनीखेज घटना को अंजाम दिया था। जिस पर पुलिस पर सवालिया निशान खड़े हो गए थे। वहीं, पुलिस को पब्लिक द्वारा वायरल हुई वीडियो के माध्यम से लुटेरों की पहचान हुई थी और पुलिस ने इसे चैलेंज के रूप में लेते हुए दो दिनों में ही उस घटना का पर्दाफाश कर दिया।

 

 

ऐसे दिया लूट को अंजाम

नौबस्ता इलाके का ही रहने वाला घटना का मुख्य आरोपी मुकेश बीते दो महीनों पहले से ही इस बैंक में रेकी कर लगातार निगरानी रख रहा था, क्योंकि इस बैंक में कोई गार्ड नहीं था। इसके बाद उसने अपने दो साथी सूरज कुमार विल्सन उर्फ डॉक्टर और राजकुमार के साथ मिलकर बैंक लूटने का प्लान बनाया। लूट की घटना को अंजाम देने से पहले तीनों ने उस दिन हमीरपुर हाइवे के पास शराब पी और उसके बाद एक बाइक पर सवार होकर बैंक पहुंचे।

यहां मुकेश ने बैंक में घुसते ही बमबाजी करते हुए दहशत फैलाना शुरू कर दिया। जबकि राजकुमार ने कैश काउंटर से कैश लूटा और बाहर सूरज कुमार विल्सन तमंचा लेकर बाइक के पास खड़ा रहा, जिससे कोई बैंक के अंदर न जा सके। बैंक में लूट की वारदात को अंजाम देने के बाद मुकेश ने बाइक चलाई और दोनों पीछे बैठकर भागने लगे। इस बीच लोगों ने इनका पीछा भी किया, लेकिन सूरज और विल्सन ने तमंचे से फायर झोंक दिया। यह गनीमत रही कि वह बाल-बाल बच गया।

पहचान छिपाने के लिए कर लिया ऐसा

इस दौरान लोगों की मदद से काफी हद तक पुलिस को लुटेरों तक पहुंचने में आसानी हुई। पुलिस सोशल मीडिया पर वायरल हुए वीडियो की मदद से मुकेश तक पहुंच सकी। खास बात यह रही कि आरोपी मुकेश वारदात के बाद जब घर पहुंचा और जब टीवी ऑन की तो अपना वीडियो देखा। जिसके बाद अपना चेहरा छिपाने के लिए उसने अपनी मूंछ मुड़वा दी, जिससे कोई उसे पहचान न सके।

मगर, उस वीडियो की मदद से पुलिस ने मुकेश और सूरज कुमार विल्सन उर्फ़ डॉक्टर को गिरफ्तार कर लिया। पुलिस ने घटना में प्रयोग की गई मोटरसाइकिल, तमंचा, लूट के दो लाख 23 हज़ार रुपये, एटीएम कार्ड, बैग बरामद कर लिया है।

 

 

क्या कहना है एसएसपी का?

एसएसपी अखिलेश कुमार ने बताया कि बैंक में लूट के मामले में आरोपी मुकेश और सूरज उर्फ डॉक्टर को क्राइम ब्रांच और पुलिस की टीमों ने गिरफ्तार कर लिया गया है। एक अन्य आरोपी राजकुमार फरार है, जिसकी तलाश जारी है। इनसे लगातार पूछताछ करते हुए पूर्व की लूट की घटनाओं के बारे में भी जानकारी की जा रही है। फिलहाल, इन्हें जेल भेजा जा रहा है। एसएसपी ने लुटेरों को पकड़ने वाली पुलिस की टीम को 25 हजार का इनाम दिया है।

जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555

दि राइजिंग न्यूज़

Suggested News

Advertisement

Public Poll