Mahi Gill Regrets Working in Salman Khan Film

दि राइजिंग न्यूज़

कानपुर।

 

गंदगी और पॉल्यूशन के चलते कानपुर की इज्जत का कचरा कई बार हो चुका है। देश भर में साफ- सफाई को लेकर की गई शहरों की रैकिंग में भी कानपुर का नंबर काफी पीछे था लेकिन जल्द ही कानपुर की यह पहचान बदलने वाली है। क्लीन कानपुर के लिए राज्य बौर केंद्र सरकार की तरफ से एक बड़ी पहल कर दी गई है। स्वच्छ भारत मिशन के तहत सात सदस्यों की कमेटी ने जो सुझाव दिए हैं उनको एक साल के अंदर नगर निगम को शहर में पूरी तरह लागू कर देना है। सुझावों के तहत घर से निकलने वाले कृड़े को तीन भागों में बांटना होगा। सूखा, गीला और ई- कचरा। जिसके बाद आपके घर में इन तीनों को अलग- अलग तरीके से ले जाने के लिए 'स्पेशल गाड़ी' आएगी। प्रदेश के डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य ने कहा कि कूड़ा निस्तारण की इस योजना पूरे प्रदेश के लिए है लेकिन सबसे पहले कानपुर में लागू किया जाएगा।

नए साल में योजना लागू

 

शहर में अभी तक दो प्रकार का सूखा और गीला कूड़ा उठाया जाता है, लेकिन अब जनवरी से ऐसा नहीं होगा। पर्यावरण एवं वन मंत्रालय, जलवायु परिवर्तन मंत्रालय की पूर्व सलाहकार डॉ. संचिता जिंदल ने बताया कि अब सूखे और गीले कूड़े के अलावा ई- कचरे के निस्तारण के लिए अलग से व्यवस्था की जाएगी।

दो साल में पूरी तरह लागू

 

7 सदस्यों की कमेटी के सुझावों पर केंद्र सरकार की मुहर लग गई है। इन सुझावों को केंद्र सरकार ने लागू करने के लिए प्रदेश सरकार को निर्देशित कर दिया है। इसको कितने चरणों में लागू किया जाएगा इसके लिए नगर निगम अलग से पूरी कार्ययोजना एक महीने में तैयार कर लेगा, क्योंकि तक दो साल में इसको पूरी तरह लागू किया जाना है। 

बदल जाएगा पूरा सिस्टम

 

स्वच्छ भारत मिशन के तहत यूपी में पहली बार कानपुर में नगर निगम के "कैपेसिटी बिल्डिंग" कार्यक्रम में पर्यावरण मंत्रालय के 7 एक्सप‌र्ट्स ने कानपुर के कूड़ा निस्तारण के लिए बनाई गई योजना के बारे में बताया। एक्सप‌र्ट्स ने कहा कि कूड़ा निस्तारण के क्रांतिकारी बदलावों से इसकी परिभाषा ही बदल जाएगी। प्रदेश के डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्या, नगर विकास मंत्री सुरेश खन्ना, कैबिनेट मिनिस्टर सत्यदेव पचौरी भी इस मौके पर मौजूद थे। डिप्टी चीफ मिनिस्टर केशव प्रसाद मौर्य ने कहा कि कानपुर से इसकी शुरुआत हो रही है जोकि बड़ी बात है।

जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555

दि राइजिंग न्यूज़

Suggested News

Advertisement

Loading...

Public Poll