Updates on Priyanka Chopra and Nick Jones Roka Ceremony

दि राइजिंग न्‍यूज

कानपुर।

 

बीते दिनों बारिश और जलभराव के चलते कानपुर में बर्रा 8 के वरुण विहार कच्ची बस्ती की झुग्गी-झोपड़ी के लगभग 500 घर बाढ़ की भेंट चढ़ गए, जिसमें हज़ारों लोग बेघर हो गए। शुक्रवार को सपा नगर अध्यक्ष मोइन खान के नेतृत्व में सैकड़ों की संख्या में पीड़ित लोग परेड स्थित शिक्षक पार्क पहुंचे। इसके बाद पीड़ितों ने सपा नगर अध्यक्ष के साथ डीएम कार्यालय पहुंचकर अपने टूटे-बिखरे हुए घरों की मांग को लेकर आवाज उठाई।

बाढ़ पीड़ितों को कैंपो से कर दिया गया बाहर

बर्रा 8 वरुण विहार कच्ची बस्ती में करीब 500 कच्चे मकान बाढ़ की चपेट में आकर तहस-नहस हो गए थे, जिसमें हजारों लोग बेघर हो कर सड़कों पर आ गए। बीते दिनों जिला प्रशासन ने निरीक्षण के दौरान बाढ़ पीड़ितों को रुकने के लिए स्कूलों में शिविर कैंप के इंतजाम करवाये थे, लेकिन अब उन्हें बदइंतजामी के तहत कैंपो से बाहर कर दिया गया। इसी को लेकर आज बाढ़ से पीड़ित कच्ची बस्ती के लोग सपा नगर अध्यक्ष के नेतृत्व में परेड स्थित शिक्षक पार्क में एकत्र होकर जिला प्रशासन के खिलाफ नारेबाजी करते हुए कलेक्ट्रट पहुंचे।

जिला प्रशासन दे रहा केवल आश्‍वासन

घर से बेघर हुई सोनिया ने बताया कि हमारे कच्चे मकान पूरी तरह से खत्म हो गए हैं। हमारी सारी जरूरतमंद चीज़ें मकान के साथ दफन हो गईं। हम रोड पर आ गए और बच्चे बीमार हो गए हैं। प्रशासन केवल तसल्ली के अलावा और कुछ नहीं कर रही है। अब हम जाएं तो जाएं कहां। पीड़ित नीरज का कहना है कि वोट को लेकर सभी जनप्रतिनिधि क्षेत्र में घूमा करते हैं, लेकिन अब इन्हें गरीबों के दर्द से कोई मतलब नहीं है।

 

 

सपा नगर अध्‍यक्ष ने की ये मांग

वहीं, सपा नगर अध्यक्ष मोइन खान ने बताया कि हर साल की तरह इस बार भी बर्रा 8 की कच्ची बस्ती के हज़ारों की संख्या में परिवार सड़कों पर अपना जीवन जीने को मजबूर हैं। गरीबों और मजदूरों के लिए बड़ी-बड़ी बात करने वाली सरकार योजनाओं के तहत इन लोगों को न तो मकान दे पाई और न ही इनकी सुरक्षा कर पा रही है।

 

 

उन्‍होंने कहा, आज डीएम कार्यालय में बाढ़ से पीड़ित गरीब और मजदूर लोगों की आवाज़ के साथ खड़े होकर सपा के कार्यकर्ताओं ने डीएम कार्यालय पहुंचकर ज्ञापन सौंपा है। ज्ञापन के माध्यम से मांग की है कि इन बाढ़ पीड़ितों को मकान और हर व्यवस्था मुहैया करवाई जाए, नहीं तो आगे हम चुप नहीं बैठेंगे।

जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555

दि राइजिंग न्यूज़

Suggested News

Advertisement

Public Poll