Neha Kakkar Reveald Her Emotional Connection with Indian Idol

दि राइजिंग न्‍यूज

कानपुर।

 

सोमवार को भारतीय किसान यूनियन कानपुर नगर के सभी क्षेत्रों के सैकड़ों की संख्या में किसान कलेक्ट्रेट पहुंचकर धरने पर बैठ गए। जहां उन्होंने जमकर नारेबाजी करते हुए प्रदर्शन किया। किसानों ने डीएम के माध्यम से प्रधानमंत्री को संबोधित ज्ञापन सौंपा।

लगातार किसानों को किया जा रहा परेशान

जिलाध्यक्ष रवि प्रताप सिंह ने बताया कि चुनावी समय के दौरान सरकार ने संकल्प पत्र भरते हुए कहा था कि 15 दिनों के भीतर गन्ना किसानों का जो भी भुगतान बकाया है, वह पूरा कर दिया जाएगा। मगर,  आज भी गन्ना किसानों का हज़ारों करोड़ों का भुगतान बकाया है। आलू किसान रो रहा है। सरकार की कोई भी ठोस नीति नहीं है। किसानों की जमीन पर नवेली पावर प्लांट संस्था लगाई गई, जिसमें कहा गया था कि चार गुना मुआवजा दिया जाएगा। जब मांगने पहुंचे तो उन्हें न तो मुआवजा दिया गया और न ही रोजगार मिला।

 

 

उन्‍होंने कहा, 10 विकास खंडों में आवारा जानवरों से किसान परेशान हैं। जानवरों से फसलों का नुकसान हो रहा है, जिसके लिए कोई कार्य नहीं किया जा रहा है। बिजली का बिल इतना बढ़ा दिया गया है कि हमारा जीना मुश्किल हो गया है। गेंहू क्रय केंद्रों में पैसा नहीं दिया जा रहा। व्यापारियों द्वारा खरीदा जा रहा गल्ला सड़ रहा है और लोन भी नहीं मिल रहा है।

 

 

हरिद्वार स्नान करने के बाद करेंगे लोकसभा का घेराव

जिलाध्‍यक्ष रवि प्रताप ने कहा कि हमारी मांग है कि सरकार द्वारा खरीफ फसलों के दाम जिस फार्मूला के तहत तय किए हैं, उससे किसान संतुष्ट नहीं है। हम सभी मांग करते हैं कि किसानों की जो भी समस्याएं हैं, उसे जल्द से जल्द सुनिश्चित कर पूरा किया जाए। गन्ना किसानों का बकाया भुगतान किया जाए।

यदि हमारी यह सभी मांगें नहीं मानी गईं तो आगामी छह सितंबर को उत्तर प्रदेश ही नहीं देश के सभी किसान हरिद्वार में एकत्रित होकर गंगा स्नान करने के बाद बड़ा आंदोलन करते हुए लोकसभा का घेराव करेंगे।

जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555

दि राइजिंग न्यूज़

Suggested News

Advertisement

Loading...

Public Poll