Home Kanpur News Drugs Supply In IIT Kanpur

J&K: दक्षिण कश्मीर और जम्मू के कई इलाकों में भारी बर्फबारी

फीस पर निजी स्कूलों की मनमानी रोकने के लिए AAP विधायकों की बैठक

उदयपुर: शंभूलाल के समर्थक हिंदू संगठनों के कार्यकर्ताओं ने पुलिस पर किया पथराव

नीतीश को तेजस्वी का चैलेंज, विकास किया है तो दिखाएं रिपोर्ट

आधार मामले पर सुप्रीम कोर्ट कल सुनाएगा फैसला

अब कानपुर आइआइटी में भी हो रही ड्रग्स सप्लाई

Kanpur | 08-Dec-2017 10:55:38 | Posted by - Admin
  • हरकत में प्रशासन
   
Drugs supply in IIT Kanpur

दि राइजिंग न्‍यूज

कानपुर।

 

कानपुर आइआइटी अपनी उच्‍च शिक्षा के लिए फेमस है, लेकिन अब यहां से एक संगीन मामला सामने आ रहा है। नशे के सौदागरों के कदम अब आइआइटी तक पहुंच चुके हैं जो यहां पढ़ने वाले छात्रों को ड्रग्स उपलब्ध करा रहे हैं। इस बात की जानकारी मिलते कार्यवाहक निदेशक मणींद्र अग्रवाल ने डीएम सुरेंद्र सिंह से शिकायत की है। डीएम ने पुलिस की टीमें बनाकर तस्करों को बेनकाब करने का निर्णय लिया है।

 

 

कानपुर आइआइटी से ही नानकारी व उसके आसपास के गांव के लोग आते-जाते हैं। उनकी आड़ में ही ड्रग्स तस्कर परिसर में प्रवेश कर जाते हैं। छात्रों को बड़े पैमाने पर ड्रग्स उपलब्ध कराते हैं। इंजीनियर बनने आए छात्र नशे की गिरफ्त में आ रहे हैं। कार्यवाहक निदेशक ने इस मसले पर बुधवार को डीएम को आइआइटी बुलाया और समस्या से अवगत कराया।

डीएम सुरेंद्र सिंह ने उनसे कहा कि हॉस्टल के वार्डन को सचेत करें ताकि अनाधिकृत लोग वहां न आ सकें। अगर कोई आता है तो सूचना पुलिस को दें। डीएम ने बताया कि कल्याणपुर सीओ व एसओ की टीम बना तस्करों को पकड़ा जाएगा। इस गंभीर मामले पर एसएसपी से भी बात करेंगे।

 

 

अब नानकारी के लोग पैदल आइआइटी परिसर से होकर आ जा सकेंगे। यहां के लोग नारामऊ चुंगी क्रासिंग से एल्मिको के बगल से होते हुए नानकारी आ जा सकेंगे। नए मार्ग से आने जाने में एक से डेढ़ किमी की दूरी अधिक तय करनी होगी। अभी आइआइटी परिसर से जाने पर वाहन की चेकिंग कराने और पर्ची बनवाने में ही आठ से दस मिनट का समय लग जाता है। यह समय भी बचेगा। डीएम ने आइआइटी के प्रभारी निदेशक से कहा कि जब भी जरूरत होगी फोर्स उपलब्ध करा देंगे, जब चाहें रास्ता बंद करें।

आइआइटी परिसर में केंद्रीय विद्यालय और कैंपस स्कूल, किसलय स्कूल है। यहां पढ़ने वाले बच्चों के अभिभावकों का पास बनाया जाएगा ताकि आने जाने में आसानी हो।

 

 

बता दें कि परिसर में कपड़ा धोने के लिए पूर्व में कुछ लोगों को रखा गया था। अब वे लोग कपड़े नहीं धुलते हैं। परिसर भी वे खाली नहीं कर रहे हैं। आइआइटी के कार्यवाहक निदेशक ने ऐसे करीब 24 परिवारों को वहां से शिफ्ट करने के लिए डीएम से कहा है। डीएम ने आश्वस्त किया है कि उन्हें शिफ्ट किया जाएगा।

"जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555








TraffBoost.NET

Rising Stroke caricature
The Rising News Public Poll





Flicker News

Most read news

 


Most read news


Most read news




sex education news