Home Kanpur News Crime Branch Wing Swat Team Dissolved In Kanpur

लोया केस में SC के फैसले से अमित शाह के खिलाफ साजिश बेनकाब- योगी

POCSO एक्ट में संशोधन पर बोलीं रेणुका चौधरी- देर आए दुरुस्त आए

शत्रुघ्न सिन्हा बोले- त्याग और बलिदान की प्रतिमूर्ति हैं यशवंत सिन्हा

केंद्र सरकार अली बाबा चालीस चोर की सरकार है: शत्रुघ्न सिन्हा

कर्नाटक विधानसभा चुनाव के लिए AIADMK ने उतारे तीन प्रत्याशी

क्राइम ब्रांच की विंग स्‍वाट टीम भंग

Kanpur | Last Updated : Jun 20, 2017 11:48 AM IST

   
crime branch wing swat team dissolved in kanpur

दि राइजिंग न्‍यूज

कानपुर।


प्रदेश में अपराध तेजी से बढ़ रहे हैं और पुलिस प्रशासन इसे रोकने में नाकाम ही रही है। पुलिसकर्मी अपराध तो रोक नहीं पा रहे हैं ऊपर से अधिकारियों के बात भी नहीं मान रहे हैं और इसका स्‍पष्‍ट उदाहरण कानपुर की क्राइम ब्रांच की प्रमुख विंग स्‍वाट टीम है।

क्राइम ब्रांच की प्रमुख विंग स्वाट टीम ने डीआइजी सोनिया सिंह के आदेश के बाद भी 24 इनामी अपराधी में से एक की भी गिरफ्तारी तो दूर प्रयास तक नहीं किया। साथ ही दो बार मौके मिलने के बाद भी संतोष जनक जवाब भी नहीं दिया। रविवार रात अपराधियों की धरपकड़ की समीक्षा के दौरान स्वाट टीम की लापरवाही सामने आने पर डीआइजी सोनिया सिंह ने स्वाट टीम को भंग कर दिया।

 

और यही नहीं टीम प्रभारी निरीक्षक केके सिंह संग विंग में तैनात एसआई मो. अतीफ, सूर्य प्रताप सिंह, राजेश कुमार व राजदेव प्रजापति, सिपाही मो. अहमद, नीरज कुमार, राजवीर, रवि, खैरुल, सुनील, निजामुद्दीन, समरेंद्र बहादुर, सीतॉश, दुर्गेश मणि, अमित तिवारी व अजय सेंगर को तत्काल प्रभाव से लाइन हाजिर भी कर दिया।

 

बताते चलें कि नौ जून को स्वाट टीम को 24 इनामी अपराधियों को पकड़ने का टारगेट दिया गया था। तीन दिन बाद समीक्षा में कोई प्रगति न होने पर चेतावनी देते हुए समय दिया गया था। रविवार रात को भी टीम से संतोषजनक जवाब नहीं मिलने पर यह कार्रवाई की गई।


यह भी पढ़ें

सवालों पर भड़के लालू, दे डाली गाली 

सलमान का जंग पर बड़ा बयान, पढ़िए क्‍या कहा

"नौकरी नहीं, दोषियों पर कार्रवाई चाहिए"

..तो मोदी के सामने झुक गए केजरीवाल!

झारखंड में अब एक रुपये में होगी रजिस्‍ट्री

राहुल को इतनी जल्‍दी नानी याद आ गईं

सुनिए नवाज़ शरीफ का जवाब..... 

ट्रम्प हुए 71 साल के,पद संभालते ही बन गए थे 

कहीं ये पाक सेना प्रमुख के आदेश तो नहीं...!


"जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555




Flicker News

Loading...

Most read news


Most read news


Most read news


Loading...

Loading...