Actress katrina Kaif and Mouni Roy Visited Durga Puja Pandal

दि राइजिंग न्यूज़

कानपुर।

 

बुधवार को कानपुर के उर्सला अस्पताल में घूसखोर क्लर्क विजिलेंस के हत्थे चढ़ गया। कोतवाली पुलिस इसे गिरफ्तार कर अपने साथ ले आई। आपको बताते चलें कि उर्सला अस्पताल में निदेशक कार्यालय में तैनात क्लर्क नीरज द्विवेदी मेडिकल बिल के भुगतान के लिए पीड़ित से दस हजार रुपयों की मांग कर रहा था। पीड़ित ने मामले की शिकायत विजिलेंस से कर दी। जिसके बाद विजिलेंस टीम ने उसे कार्यालय से धर दबोचा और उसे गिरफ्तार कर कोतवाली ले आई।

सरसौल ब्लॉक में तैनात क्लर्क रविंद्र प्रताप की किडनी की समस्या से पिछले काफी समय से परेशान चल रहे थे। जिसका वह इलाज भी करा रहे थे। रवींद्र डेढ़ लाख के मेडिकल बिल के भुगतान के लिए लगातार निदेशक कार्यालय के चक्कर काट रहे थे। इस दौरान अस्पताल में तैनात वरिष्ठ सहायक क्लर्क नीरज दिवेदी  डेढ़ लाख के बिलों को पास करने के एवज में रवींद्र से दस हजार रुपयों की मांग रहा था। जब रवींद्र ने कहा कि यह गलत है तो उसने उसे टरका दिया। जिसके बाद पीड़ित रविंद्र ने मामले की शिकायत विजिलेंस से कर दी।

सूचना पर पहुंची विजिलेंस की टीम ने वरिष्ठ सहायक को गिरफ्तार कर लिया और उसे कोतवाली को सुपुर्द कर दिया। प्रदीप कुमार इंस्पेक्टर विजिलेंस ने बताया कि पीड़ित रवींद्र की सूचना पर पहुंचे थे। जहां मेडिकल रिम्बर्समेंट को लेकर वरिष्ठ क्लर्क पीड़ित से कुछ पैसों की मांग कर रहा था। मौके से हमने उसे पकड़ लिया और उसे कोतवाली को सुपुर्द कर उसके खिलाफ जांच की जा रही है।

जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555

दि राइजिंग न्यूज़

Suggested News

Advertisement