Home Kanpur News Case Of Attempt To Rape In Jagriti Nursing Home

श्रीलंका के जाफना जेल में भेजे गए तमिलनाडु से गिरफ्तार 16 मछुआरे

व्यापम केस में CBI ने 95 लोगों के खिलाफ फाइल की चार्जशीट

त्रिपुरा: BJP कार्यकर्ता की हत्या, CPM पर लगाए आरोप

72,400 असॉल्ट राइफल्स और 93,895 कार्बाइन्स की खरीद को मंजूरी

अहमदाबाद: प्रवीण तोगड़िया से अस्पताल में मिले कांग्रेस नेता अर्जुन मोढवाडिया

कानपुर में पब्लिक ने दारोगा को गिराकर पीटा

Kanpur | 18-Jun-2017 03:03:17 PM | Posted by - Admin

   
case of attempt to rape in jagriti nursing home

दि राइजिंग न्‍यूज

कानपुर।


शहर के बर्रा इलाके में स्थित एक नर्सिंग होम में रेप की घटना के बाद उसे बंद कराने की मांग को लेकर शनिवार सुबह जमकर उत्पात हुआ। सुबह करीब नौ बजे सैकड़ों लोगों ने बाईपास पर हंगामा काटा। पुलिस के समझाने पर भीड़ उग्र हो गई। लाठीचार्ज और पथराव में भीड़ ने एक दारोगा को पीटकर गंभीर रूप से घायल कर दिया। एक इंस्पेक्टर ने उसे किसी तरह बचाया। पुलिस को रिवॉल्वर तानने की नौबत आ गई।


तीन घंटे चले इस उत्पात में पांच पुलिसवाले घायल हुए हैं। बर्रा थाने में 28नामजद समेत 300 अज्ञात के खिलाफ रिपोर्ट लिखी गई है। देर रात तक 20 लोग गिरफ्तार कर लिए गए थे। जागृति नर्सिंग होम में भर्ती युवती से कथित रेप के बाद यूसुफ नाम के आरोपी को शुक्रवार सुबह पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया था। शनिवार सुबह करीब नौबजे एक युवती के उकसावे पर सैकड़ों लोग बर्रा बाईपास पर पहुंच गए। उनकी मांग थी कि जागृति नर्सिंग होम बंद करा इसके मालिकों के खिलाफ कार्रवाई की जाए।


आधे घंटे में डायल-100के अलावा एसपी साउथ अशोक वर्मा, गोविंदनगर सीओ भारी फोर्स लेकर मौके पर पहुंचे। भीड़ में कुछ युवकों ने ट्रकों को रोककर तोड़फोड़ की कोशिश भी की। आरोप है कि भीड़ को शांत कराने के दौरान कुछ पुलिसवालों ने रेप पीड़िता के परिजनों से बदतमीजी कर दी। इससे लोग और उग्र हो गए। जवाब में पुलिस ने लाठीचार्ज किया। इसमें महिलाओं को भी चोटें आईं। इसके बाद पब्लिक ने जोरदार पथराव कर दिया।


इस बीच कुछ उपद्रवियों ने पेट्रोल पंप के पास फजलगंज थाने के दारोगा लाखन सिंह को दबोच लिया और उन्हें ईंट-पत्थरों और डंडों से जमकर पीटा गया। कई युवकों ने रोड पर गिर जाने के बाद भी दरोगा को मारना जारी रखा। अपने अकेले साथी को पिटता देख इंस्पेक्टर सुनील कुमार सिंह ने सर्विस रिवॉल्वर दिखाकर भीड़ को दौड़ा लिया। इसके बाद गंभीर रूप से घायल दारोगा को हॉस्पिटल भेजा गया।


इधर, भीड़ के एक हिस्से ने जागृति नर्सिंग होम पर भी धावा बोल दिया। यहां जबर्दस्त तोड़फोड़ और पथराव हुआ। मोर्चा ले रही पुलिस पर यहां भी जमकर पत्थर बरसे। नर्सिंग होम के सामने वाली गली से सैकड़ों लोगों ने पुलिसवालों को दौड़ा लिया। इस बीच भारी पुलिस फोर्स, पीएसी के साथ डीएम सुरेंद्र सिंह और अन्य सीनियर अधिकारी मौके पर पहुंचे। 

पुलिस के बढ़ते दबाव के बाद उपद्रवियों के हौसले पस्त हुए। बर्रा थाने में नर्सिंग होम प्रशासन और पुलिस ने सरकारी काम में बाधा डालने और अन्य संगीन धाराओं में एफआईआरलिखी गई। कर्रही गांव में देर रात तक चली छापेमारी में 15-20 उपद्रवियों को गिरफ्तार कर लिया गया था। सूत्रों का कहना है कि एक युवती ने ही भीड़ को एकजुट कर उकसाया। 


दारोगा को छोड़ गए थे पुलिसवाले

जब पेट्रोल पंप के पास दारोगा लाखन सिंह भीड़ के बीच फंस गए तो उनके करीब मौजूद कई पुलिसवाले वहां से भाग निकले। दारोगा लाखन सिंह के सिर में 18 टांके आए हैं। एसपी (साउथ) अशोक कुमार वर्मा ने कहा कि कुछ लोगों को गिरफ्तार कर लिया गया है। हालात काबू में हैं। 

 


यह भी पढ़ें

सवालों पर भड़के लालू, दे डाली गाली 

सलमान का जंग पर बड़ा बयान, पढ़िए क्‍या कहा

"नौकरी नहीं, दोषियों पर कार्रवाई चाहिए"

..तो मोदी के सामने झुक गए केजरीवाल!

झारखंड में अब एक रुपये में होगी रजिस्‍ट्री

राहुल को इतनी जल्‍दी नानी याद आ गईं

सुनिए नवाज़ शरीफ का जवाब..... 

ट्रम्प हुए 71 साल के,पद संभालते ही बन गए थे 

"जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555








TraffBoost.NET

Rising Stroke caricature
The Rising News Public Poll





Flicker News

Most read news

 


Most read news


Most read news