Ali Asgar Faced Molestation in The Getup of Dadi

दि राइजिंग न्‍यूज  

कानपुर।

 

जवाहर नवोदय विद्यालय सरसौल कानपुर में विगत वर्षों की भांति सातवीं एलुमनी मीट का आयोजन बड़ी धूमधाम से किया जाएगा। इसको लेकर आज जेएनवी कानपुर एलुमनी एसोसिएशन के पदाधिकारियों ने प्रेस क्लब में एक प्रेस वार्ता की गई।

जनरल सेक्रेटरी नीतू सिंह ने बताया कि यह भूतपूर्व मिलन समारोह का कार्यक्रम 9 दिसंबर को जेएनवी सरसौल विद्यालय प्रांगण में आयोजित किया जायेगा। इसमें पुराने छात्रों का नए छात्रों का मिलन होता है, जिसमें पुराने छात्र नए छात्रों की हर समस्याओं को मीट आउट करते हैं और अपने अनुभव साझा करते हैं। साथ ही उन्हें एक नई दिशा की ओर बढ़ाने का प्रयास करते हैं। यहां से पढ़े हुए छात्र देश-विदेश के कोने-कोने में स्थापित हैं, जिन्हें इस एलुमनी मीट में आमंत्रित किया गया है, वे सभी यहां आएंगे।

उन्‍होंने बताया कि हमारी एसोसिएशन छात्रों को सपोर्ट भी करती है, जो छात्र पास आउट होते हैं और वह कोई भी क्षेत्र में जाना चाहते हैं, उन्हें उनके पसंदीदा क्षेत्र के लिए गाइडेंस देते हैं।

यह एक परिवार की तरह करता है अन्य छात्रों को सपोर्ट

भूत पूर्व छात्र अजय गुप्ता ने बताया कि विगत कई वर्षों से यहां भूतपूर्व छात्र सम्मेलन कर रहे हैं। यहां से निकले हुए कई छात्र विदेशों में हमारे देश का नाम रोशन कर रहे हैं, वह भी यहां आएंगे और यहां पढ़ रहे छात्रों को मोटिवेट भी करेंगे। लगभग 300 से ज्यादा छात्र इस कार्यक्रम में शिरकत करेंगे। यहां भूतपूर्व छात्र नए छात्रों के लिए प्रेरणास्रोत बनने का कार्य करेंगे। हम पढ़ने वाले छात्रों को मूलभूत सुविधाएं भी मुहैया कराते हैं। जिस क्षेत्र में छात्रों को रुचि है, उन्हें गाइडेंस दिया जाता है।

नवोदय विद्यालय भारत सरकार द्वारा 1985 से संचालित किया जा रहा है। उस समय के तत्कालीन प्रधानमंत्री का सपना था कि इन विद्यालयों से जो छात्र पढ़ाई करके निकलेंगे उनको सरकार द्वारा संचालित विभिन्न योजनाओं एवं कार्यालयों में समायोजित किया जाएगा। उनका सपना यहां से निकले छात्रों ने पूरा भी किया। इस एलुमनी मीट का उद्देश्य इतना ही है कि इस विद्यालय में छात्र एवं छात्राएं बचपन से आते हैं। इस एलुमनी मीट के जरिए यहां वे अपना बचपन एक-दूसरे से शेयर कर दोबारा याद कर सकते हैं और पुराने और नए दोस्तों से मिलने का मौका मिल पाता है। यह एक परिवार की तरह भाई-बहन की तरह रहते हैं। साथ ही सरकार द्वारा जो मूलभूत सुविधाएं नहीं दी जा पाती हैं, उन्हें यह भूतपूर्व छात्र अपने सहयोग से पूर्ण करते हैं।

इस वार्ता में गौरव पाल, लव गुप्ता, समेत तमाम लोग मौजूद रहे।

 

जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555

दि राइजिंग न्यूज़

Suggested News

Advertisement