Home International News Officials Says That Indians Are Not Safe In Qatar

विजयवाड़ा: निदेशक एसएस राजामौली की सीएम चंद्रबाबू नायडू से मुलाकात

कलकत्ता हाईकोर्ट दुर्गा पूजा विसर्जन विवाद पर गुरुवार को फैसला सुनाएगा

दिल्ली: प्रसाद ग्रुप के मालिक के घर CBI की छापेमारी

योगी आदित्यनाथ और केशव प्रसाद मौर्य गुरुवार को लोकसभा की सदस्यता से इस्तीफा देंगे

कावेरी जल विवाद: सुप्रीम कोर्ट ने अपना फैसला सुरक्षित रखा

Trending :   #Hot_Photoshot   #Sports   #Politics   #Hollywood   #Bollywood

सुरक्षित नहीं हैं कतर में रह रहे इंडियंस

International | 10-Jun-2017 12:51:02 PM
     
  
  rising news official whatsapp number

officials says that indians are not safe in qatar


दि राइजिंग न्यूज़

दोहा।


क़तर में मौजूद भारतीय दूतावास ने यहां रह रहे भारतीयों को सतर्क रहने और अपनी यात्रा योजनाओं में संशोधन के लिए अपने ट्रेवल एजेंटों से संपर्क करने की सलाह दी है। इसके साथ ही उन्होंने सभी भारतीयों को आगे की घटनाओं के प्रति सतर्क रहने का अनुरोध भी किया है।


गौरतलब है कि इस सप्ताह खाड़ी के कई देशों द्वारा कतर से अपने कूटनीतिक संबंध तोड़ लेने के मद्देनजर यह सलाह दी गई है। यह सलाह बुधवार को जारी की गई जिसमें कहा गया है कि संबंधित एयरलाइंस ने उड़ानों में अवरोध के बाद रद्द उड़ानों के लिए धन वापसी की पेशकश की है।


बताया गया है कि, "भारतीय यात्रियों से अपनी यात्रा व्यवस्था में संशोधन के लिए तथा अपने ट्रेवेल एजेंटों से संपर्क करने और आगे की घटनाओं के प्रति सतर्क रहने का अनुरोध किया जाता है।"


दूतावास के अनुसार, "भारतीय दूतावास हालात पर नज़दीकी से नजर रखे हुए हैं साथ ही कतर में भारतीय नागरिकों की सुरक्षा व रक्षा सुनिश्चित करने के लिए कतर के अधिकारियों के संपर्क में है।"


हालांकि मीडिया रिपोर्ट्स की मानें तो यह बात भी सुनिश्चित हो गई है कि इस क्षेत्र में ऐसा कुछ भी घटित नहीं हो रहा जिसको लेकर कतर में रहने वाले लोगों की सुरक्षा के लिए खतरा हो लेकिन फिर भी उन्होंने यह कहा है कि कृपया अपने आपको नवीनतम खबरों से अपडेट रखें और तथ्यों की पड़ताल किए बिना अफवाहों पर विश्वास न करें।


आपको बताते चलें कि सऊदी अरब, बहरीन, यमन, संयुक्त अरब अमीरात (यूएई) तथा मिस्र ने कतर से कथित तौर पर आतंकवाद का समर्थन करने के आरोप लगाते हुए सोमवार को कतर से अपने कूटनीतिक संबंध तोड़ लिए।


दरअसल, साल भर से चल रहे विवाद के बाद अब कतर से कूटनीतिक संबंध तोड़े जाने को कतर और कुछ अरब खाड़ी के देशों के समूह के बीच इस विवाद को चरम के तौर पर देखा जा रहा है, इस समूह की अगुवाई सऊदी अरब कर रहा है। इसके अलावा मालदीव, यमन, मारीशस, मारिटानिया और जॉर्डन ने भी कतर से कूटनीतिक संबंध तोड़ लिए हैं।


भारतीय नागरिकों की सुरक्षा को लेकर दूतावास द्वारा किए गए प्रयास के बाद कतर के अधिकारियों ने कहा है कि सामान्य जीवन सुनिश्चित करने के लिए सभी ज़रूरी कदम उठाए जाएंगे , जिसमें खाद्य सामानों की आपूर्ति भी शामिल होगी। आपकी जानकारी के लिए बता दें कि कतर में इस समय करीब 63,000 प्रवासी भारतीय हैं। कतर भारत के लिए लिक्विड नेचुरल गैस (एलएनजी) का सबसे बड़ा आपूर्तिकर्ता है।


यह भी पढ़ें

राष्ट्रपति चुनाव 17 जुलाई को

बेटी का शव लेकर भटकती रही पीड़िता

योगी के नेता की धमकी, इस्‍लाम अपना लूंगा

बीजेपी विधायक की ट्रैफिक पुलिस से दबंगई, देखें वीडियो

आरबीआइ की ब्‍याज दरें, रेपो रेट 6.25 बरकरार



जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555

संबंधित खबरें

HTML Comment Box is loading comments...

 


Content is loading...



What-Should-our-Attitude-be-Towards-China


Rising Stroke caricature
The Rising News Public Poll



Photo Gallery
गणपति बप्पा मोरया मंगल मूर्ति मोरया । फोटो - कुलदीप सिंह

Flicker News


Most read news

 



Most read news


Most read news


खबर आपके शहर की