Actress katrina Kaif and Mouni Roy Visited Durga Puja Pandal

दि राइजिंग न्यूज़

इंटरनेशनल डेस्क।

 

12 जून को अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप और उत्तर कोरिया के तानाशाह किम जोंग-उन की ऐतिहासिक मुलाकात हुई थी। जिसके बाद उत्तर कोरिया इस बात के लिए राजी हो गया था कि वह परमाणु हथियारों को खत्म कर देगा और नए हथियार नहीं बनाएगा। हालांकि अब अमेरिका के विदेश मंत्री माइक पॉम्पियो का कहना है कि वादा करने के बावजूद उत्तर कोरिया परमाणु बम के लिए आण्विक सामग्री बना रहा है। यह बातें उन्होंने सीनेट में पूछे गए एक सवाल के जवाब में कहीं।

 

अपने जवाब में पॉम्पियो ने कहा, “हां यह सही है। हां वह लगातार आण्विक सामग्री का निर्माण कर रहे हैं।” माइक से जब पूछा गया कि क्या उत्तर कोरिया सबमरीन लॉन्च बैलिस्टिक मिसाइल को आगे बढ़ा रहा है तो उन्होंने इसपर कोई जवाब नहीं दिया। उन्होंने कहा कि अमेरिका धैर्यपूर्ण कूटनीति का इस्तेमाल करते हुए उत्तर कोरिया को इस बात के लिए मनाने की कोशिश कर रहा है कि वह अपने परमाणु हथियारो को छोड़ दे लेकिन प्रक्रिया फिलहाल सफल होती हुई नहीं दिख रही है।

उत्तर कोरिया की अपनी 5-7 यात्रा का हवाला देते हुए उन्होंने बताया कि अपने समकक्ष किम योंग चोल के साथ उनकी बातचीत लाभकारी स्थिति में है। उन्होंने कहा कि डोनाल्ड ट्रंप चाहते हैं कि उत्तर कोरिया परमाणु हथियार मुक्त हो जाए लेकिन किम को भी समिट के दौरान की गई वचनबद्धता को फॉलो करना चाहिए। ट्रंप ने किम के साथ अपनी मुलाकात को सफल करार दिया था लेकिन यह सवाल बढ़ता जा रहा है कि क्या उत्तर कोरिया अपने परमाणु हथियार निरस्त करने के लिए तैयार है। जिसके जरिए उसने अमेरिका को तबाह करने की धमकी दी थी।

 

बता दें कि पॉम्पियो ने पहले भी कहा था कि उत्तर कोरिया पर लगे प्रतिबंध तभी हटाए जाएंगे जब वह पूरी तरह से अपने परमाणु हथियारों को खत्म कर देगा। 9 जुलाई को उत्तर कोरिया से दो दिन की गहन बातचीत के बाद लौटे पॉम्पियो ने इसे सकारात्मक बताया था। वहीं उत्तर कोरिया ने अपने सुर बदलते हुए इस बातचीत को खेदजनक बताया था। उत्तर कोरिया ने आरोप लगाया था कि बातचीत के दौरान अमेरिका का रवैया ठीक नहीं था।

जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555

दि राइजिंग न्यूज़

Suggested News

Advertisement