Thugs of Hindostan Katrina Kaif Look Motion Poster Released

दि राइजिंग न्‍यूज  

इंटरनेशनल डेस्‍क।

 

नेपाल ने भारत को झटका बड़ा झटका दिया। नेपाल ने कहा है कि नेपाली सेना भारत में होने जा रहे बिम्सटेक के पहले सैन्य अभ्यास में हिस्सा नहीं लेगी। बताया जा रहा है कि सेना के सैन्य अभ्यास में शामिल होने पर देश में राजनीतिक विवाद हो गया, जिसके बाद ये फैसला लिया गया। प्रधानमंत्री केपी शर्मा ओली ने राष्ट्रीय रक्षा बल को आदेश दिया कि नेपाली सेना अभ्यास में नहीं जाएगी।

स्थानीय मीडिया की रिपोर्ट के मुताबिक ये फैसला ऐसे समय में आया है, जब सेना का एक दस्ता पुणे के लिए शनिवार को रवाना होने वाला था।

बता दें सोमवार से पुणे में बिम्सटेक देशों की सेना का सैन्य अभ्यास शुरू होने जा रहा है। जब सेना के इस अभ्यास में शामिल होने की बात कही गई तो वहां सत्ताधारी नेपाल कम्युनिस्ट पार्टी के नेताओं सहित अन्यों ने भी इस बात की कड़ी आलोचना की। जिसके बाद सरकार को ये फैसला लेना पड़ा।

ये देश हैं बिम्सटेक के सदस्य

बे ऑफ बंगाल इनीशिएटिव फॉर मल्टी-सेक्टोरल टेक्निकल एंड इकनॉमिक को-ऑपरेशन (बिम्सटेक) एक क्षेत्रीय संगठन है। इसके सदस्य देश भारत, म्यांमार, श्रीलंका, थाईलैंड, भूटान और नेपाल हैं। सभी देश अपनी थल सेनाओं को छह दिवसीय अभ्यास के लिए भेज रहे हैं। सभी 30-30 सदस्यों का दस्ता भेजेंगे।

इसलिए किया सेना को मना

स्थानीय मीडिया में आई खबरों के मुताबिक, नेपाली सरकार ने सेना को इसलिए मना किया क्योंकि इसमें हिस्सा लेने के फैसले से पहले कोई सहमति कायम नहीं हो पाई थी। ओली के प्रेस सलाहकार से जब बातचीत की गई तो उन्होंने कहा कि सरकार ने ही सेना को अभ्यास में हिस्सा न लेने के लिए कहा है। वहीं एक सैन्य अधिकारी का भी यही कहना है कि उन्हें कोई औपचारिक निर्देश प्राप्त नहीं हुआ, लेकिन सेना को भारत जाने से रोक दिया गया।

अभ्यास की तैयारी के लिए तीन अधिकारी तो पहले ही रवाना हो चुके हैं। वह भी अब जल्द लौटेंगे। इससे पता चलता है कि सरकार ने ये फैसला ऐन वक्त पर लिया है।

जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555

दि राइजिंग न्यूज़

Suggested News

Advertisement