Coffee With Karan Sixth Season Teaser Released

दि राइजिंग न्यूज़

इंटरनेशनल डेस्क।

 

पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ और उनकी बेटी मरियम नवाज आज अबु धाबी अंतरराष्ट्रीय एयरपोर्ट पर उतर गए हैं। न्यूज एजेंसी के मुताबिक अभी यह पता नहीं चल पाया है कि उन्हें इस्लामाबाद ले जाया जाएगा या फिर लाहौर। लेकिन पाकिस्तानी मीडिया के मुताबिक नवाज और मरियम को शाम 6.15 मिनट पर लाहौर लाया जाएगा। बताया ये भी जा रहा है कि दोनों को अबु धाबी पर ही हिरासत में ले लिया जाएगा।

 

दोनों की गिरफ्तारी के लिए नेशनल अकाउंटेबिलिटी ब्यूरो (एनएबी) की टीम ने पूरी तैयारी कर ली है। इससे पहले दोनों लंदन में थे और नवाज शरीफ की पत्नी से अस्पताल में जाकर दोनों ने मुलाकात की। सूत्रों की मानें तो लाहौर रवाना होने से पहले नवाज शरीफ एयरपोर्ट के बाहर एक रैली करेंगे। उधर, लाहौर एयरपोर्ट के बाहर भी पीएमएल-एन प्रमुख और नवाज शरीफ के भाई शहबाज शरीफ ने उनके स्वागत में भव्य रैली की तैयारी की है।

बता दें कि भ्रष्टाचार की कमाई से लंदन में 4 आलीशान फ्लैट खरीदने के मामले में पाकिस्तान की अकाउंटेबिलिटी कोर्ट ने उन्हें 10 साल जेल की सजा सुनाई है। इस मामले में उनकी बेटी मरियम नवाज और दामाद मोहम्मद सफदर को भी कोर्ट ने दोषी माना है और उन्हें भी क्रमश: सात साल और एक साल की सजा सुनाई गई है। इसके अलावा नवाज शरीफ पर करीब 73 करोड़ रुपये और मरियम नवाज पर 18 करोड़ रुपये का जुर्माना लगाया गया है। इसी सिलसिले में वो अपनी गिरफ्तारी देने के लिए लाहौर आ रहे हैं।

 

नवाज शरीफ और उनकी बेटी मरियम देश में आने के बाद बाहर नहीं जा सकेंगे। उनकी विदेश यात्रा पर प्रतिबंध लगा दिया गया है। पाकिस्तानी गृह मंत्रालय के एक अधिकारी के मुताबिक राष्ट्रीय जवाबदेही ब्यूरो (एनएबी) के अनुरोध पर नवाज और उनकी बेटी मरियम का नाम एग्जिट कंट्रोल लिस्ट (ईसीएल) में डाल दिया गया है। मतलब अब वह देश में आ तो सकेंगे लेकिन बाहर नहीं जा सकेंगे।

मंत्रालय ने कहा कि एएनबी की सिफारिश के बाद इनके नामों को ईसीएल में डाला गया है। एनएबी के सूत्रों के मुताबिक, नवाज और मरियम दोनों को एक दिन के लिए आदियाला जेल में रखा जाएगा और उसके बाद उन्हें अटॉक फोर्ट जेल में भेज दिया जाएगा।

 

वतन वापसी से पहले मुशर्रफ पर साधा निशाना

नवाज शरीफ ने वतन वापसी से पहले कहा कि मुझे जेल की सलाखें दिख रही हैं, इसके बावजूद मैंने अपने देश लौटने का फैसला किया है, क्योंकि मैं जनादेश का सम्मान करते हूं। इस दौरान उन्होंने पाकिस्तान के पूर्व राष्ट्रपति परवेज मुशर्रफ पर भी निशाना साधा। उन्होंने कहा कि मैं मुशर्रफ की तरह भगोड़ा और बुजदिल नहीं हूं जो जेल जाने के डर से भाग जाऊं। मुझे तो 10 साल की सजा हुई है, फिर भी अपने वतन वापस जा रहा हूं, लेकिन परवेज मुशर्रफ को तो अभी सजा भी नहीं हुई है और वो पहले से ही बुजदिलों की तरह भाग रहा है।

जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555

दि राइजिंग न्यूज़

Suggested News

Advertisement