Bhojpuri Film Balamua Tohre Khatir Will Release on 31 August

दि राइजिंग न्यूज़

इंटरनेशनल डेस्क।

 

अमेरिका की तरफ से 2015 में किया गया परमाणु समझौता इस साल मई में तोड़ने के बाद ईरान पर लगाए गए आर्थिक प्रतिबंधों का असर दिखने लगा है। ईरानी अर्थव्यवस्था पूरी तरह ढेर हो गई है। नतीजतन वहां के एक रियाल की कीमत भारतीय मुद्रा में 16 पैसे के बराबर हो गई है, जबकि ईरानियों को एक अमेरिकी डॉलर खरीदने के लिए करीब 1.12 लाख रियाल चुकाने पड़ रहे हैं। शनिवार को एक डॉलर के बदले 98 हजार रियाल की कीमत के बाद ये डॉलर के मुकाबले ईरानी रियाल की गिरती कीमत का नया रिकॉर्ड है।

 

हालांकि सरकार की तरफ से एक जनवरी को तय एक डॉलर के बदले 35,186 रियाल की विनिमय दर के मुकाबले अब 44,070 रियाल की सरकारी दर तय की गई है लेकिन आर्थिक प्रतिबंधों से खौफजदा ईरान निवासियों का अपनी संपत्ति को अधिक से अधिक डॉलर में बदलकर सुरक्षित रखने के कारण अमेरिकी मुद्रा की भारी मांग हो गई है, जिससे डॉलर के मुकाबले रियाल के दाम लगातार गिरते जा रहे हैं।

अभी हालात के और बदतर होने की संभावना है, क्योंकि 7 अगस्त को अमेरिका की तरफ से इस शिया देश के ऊपर अपने आर्थिक प्रतिबंधों का पहला चरण शुरू करना है। लगातार नीचे जा रही ईरानी अर्थव्यवस्था में ताजा गिरावट अप्रैल महीने से शुरू हुई है।

 

पहली बार मार्च में 50,000 के स्तर से नीचे जाने के बाद सरकार ने अप्रैल में दर को 42,000 पर स्थिर करने की कोशिश की थी और कालाबाजारी करने वालों पर कड़ी कार्रवाई की चेतावनी दी थी लेकिन कमजोर होती अर्थव्यवस्था और निर्यात के ठप होने से इसमें गिरावट लगातार जारी है। सरकार ने पिछले सप्ताह अपने सेंट्रल बैंक के अध्यक्ष हसन रूहानी को भी इस संकट से निपटने में विफल रहने के कारण बाहर का रास्ता दिखा दिया था।

जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555

दि राइजिंग न्यूज़

Suggested News

Advertisement

Public Poll