Vicky Kaushal on Pulwama Terrorist Attack befitting answer must be given to Terrorism

दि राइजिंग न्यूज़

इंटरनेशनल डेस्क।

 

अर्जेंटीना में आयोजित जी-20 शिखर सम्मेलन के दौरान रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन और अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के बीच होने वाली बैठक को ट्रंप ने रद्द कर दिया। जिसके बाद रूस ने कड़ा रुख अपनाते हुए निकट भविष्य में दोनों देशों के बीच किसी भी प्रकार की बातचीत की संभावना से इनकार कर दिया है। इस बात की पुष्टि पुतिन के प्रवक्ता दमित्री पेस्कोव ने शनिवार रात की। रूसी मीडिया ने दमित्री पेस्कोव का हवाला देते हुए कहा कि अर्जेंटीना में निर्धारित बैठक ट्रम्प द्वारा गुरुवार को रद्द कर दी गई थी, जिसके बाद अमेरिका और रूस की सरकारें एक दूसरे के संपर्क में थीं।

दोनों देशों पर युद्ध का खतरा!

यूक्रेन ने टकराव के बाद रूस के साथ अपने सीमावर्ती क्षेत्रों में मार्शल लॉ लागू कर दिया है जिससे दोनों देशों पर युद्ध का खतरा मंडरा रहा है। पुतिन के प्रवक्ता दमित्री पेस्कोव ने कहा था कि दोनों देशों को अर्जेंटीना में भी बैठक की जरूरत है। उन्होंने कहा कि पुतिन ने अजोव सागर मामले में फ्रांसीसी राष्ट्रपति इमैनुएल मैक्रों और जर्मन चांसलर एंजेला मर्केल के साथ हुई बैठकों में स्थिति को स्पष्ट कर दिया था और ट्रंप के लिए भी यह एक मौका था जिसे उन्होंने गवां दिया।

 

तो इसलिए ट्रंप ने रद्द की मुलाकात

ट्रम्प ने रूस और यूक्रेन के बीच बढ़ते तनावों के मद्देनजर अपनी मुलाकात रद्द कर दी थी। दरअसल, विश्व की दो सबसे बड़ी अर्थव्यवस्थाओं के नेताओं को ब्यूनस आयर्स में आयोजित हुए जी 20 शिखर सम्मेलन में शनिवार को द्विपक्षीय वार्ता में शरीक होना था। लेकिन ट्रंप ने इसमें शामिल होने से इनकार करते हुए इस प्रस्तावित बैठक को रद्द कर दिया था। बता दें कि बीते 25 नवंबर को क्रिमियाई प्रायद्वीप में रूसी सैनिकों ने कथित रूप से रूसी क्षेत्र अजोव सागर में प्रवेश करने के बाद यूक्रेन की नौसेना के जहाजों पर हमला कर उन्हें कब्जे में ले लिया था। जिसके बाद ट्रंप ने पुतिन ने कहा कि मैं पुतिन से नहीं मिलूंगा क्योंकि उनकी सेना द्वारा कब्जे में लिए गए जहाज और यूक्रेन के 24 नाविकों को अब तक वापस नहीं भेजा गया है। बता दें कि रूस और यूक्रेन के बीच का ये संघर्ष क्रिमिया और रूस के बीच पड़ने वाले कर्च स्ट्रेट के नाम से जाने जाने वाले एक जल मार्ग को लेकर है।

ट्रंप के फैसले पर रूस को अफसोस

क्रेमलिन (रूस) ने कहा था कि जी 20 शिखर सम्मेलन में रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन के साथ वार्ता रद्द करने का अमेरिका के राष्ट्रीय डोनाल्ड ट्रंप का फैसला अफसोसजनक है। पुतिन के प्रवक्ता दमित्री पेसकोव ने रूसी समाचार एजेंसियों को बताया, कि हमें अफसोस है कि अमेरिकी प्रशासन ने बातचीत रद्द कर दी। उन्होंने कहा था, इसका मतलब है कि अंतरराष्ट्रीय एवं द्विपक्षीय एजेंडा को लेकर अहम मुद्दों पर चर्चा अनिश्चितकाल के लिए टल जायेगी। उन्होंने कहा था, पुतिन अपने अमेरिकी समकक्ष के साथ संपर्क करने के लिए तैयार हैं। पिछले सप्ताह 3 यूक्रेनी जहाजों को जब्त किये जाने और यूक्रेनी नाविकों के समूह को हिरासत में रखे जाने के मुद्दे पर ट्रंप ने बीते गुरुवार यानी 29 नवंबर को रूस के साथ बातचीत रद्द कर दी थी।

जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555

दि राइजिंग न्यूज़

Suggested News

Advertisement