Complaint Filed Against Aditya Pancholi At Versova Police Station

दि राइजिंग न्‍यूज

इंटरनेशनल डेस्‍क।

 

रविवार को बांग्लादेश में भारी सुरक्षा के बीच 299 संसदीय सीटों के लिए वोट डाले गए। इस दौरान देशभर से चुनावी हिंसा की खबरें आईं। इसमें एक सुरक्षाकर्मी समेत 17 लोगों की मौत हो गई। कई जगहों पर प्रधानमंत्री शेख हसीना की सत्तारूढ़ पार्टी आवामी लीग और मुख्य विपक्षी दल बेगम खालिदा जिया की बांग्लादेश नेशनलिस्ट पार्टी (बीएनपी) के समर्थकों के बीच हिंसक झड़पें हुईं।

एक उम्मीदवार की आकस्मिक मौत की वजह से उस सीट पर वोटिंग रोक दी गई। वहीं वोटिंग के बाद अब गिनती भी शुरू हो गई है। जानकारी के मुताबिक शुरुआती परिणामों में शेख हसीना को स्पष्ट लीड दिखाई दे रही है। बीडी न्यूज24 की रिपोर्ट के मुताबिक, रंगामती के कावखाली में आवामी लीग की यूथ विंग जूबो लीग के एक नेता की हत्या कर दी गई।

वहीं, चट्टोग्राम में एक बीएनपी समर्थक की झड़प में मौत हो गई। नरसिंहडी में आवामी लीग के एक पोलिंग एजेंट के मारे जाने की खबर है। बीएनपी समर्थकों ने राजशाही और मोहनपुर में आवामी लीग के समर्थकों पर हमला किया। हालात पर काबू पाने के लिए पुलिस को फायरिंग करनी पड़ी, जिसमें एक व्यक्ति की मौत हो गई। पुलिस ने बताया कि नोवाखाली-3 संसदीय क्षेत्र में जमात के कार्यकर्ताओं ने कानून प्रवर्तन एजेंसी के सदस्य की हत्या कर दी।

सुबह तक आएंगे नतीजे

बांग्लादेश में वोटिंग स्थानीय समयानुसार सुबह 8 बजे शुरू हो हुई और निर्धारित समय शाम 4 बजे समाप्त हो गई। चुनाव आयोग ने बताया कि सोमवार सुबह तक चुनाव के नतीजे आ जाएंगे। संसद में कुल 300 सीटें हैं। हालांकि, चुनाव सिर्फ 299 सीटों पर हुआ। 1,848 उम्मीदवार चुनाव मैदान में थे।

पहली बार ईवीएम का इस्तेमाल

यह पहली बार था जब देश में आम चुनाव के लिए प्रयोग के तौर पर छह संसदीय सीटों पर ईवीएम मशीनों का इस्तेमाल किया गया। इस दौरान कुछ जगहों पर ईवीएम में गड़बड़ी की भी शिकायत दर्ज की गई।

चुनाव शांतिपूर्ण रहा: सीईसी

मुख्य निर्वाचन आयुक्त नूरुल हुडा ने कहा कि कुछ जगहों को छोड़ दें तो देश में चुनाव शांतिपूर्ण रहा। चुनाव के लिए हजारों सैनिकों समेत छह लाख अर्धसैनिक बल और पुलिस के जवान देशभर में तैनात किए गए थे।

10 कैंडीडेट ने किया चुनाव का बहिष्कार

दस उम्मीदवारों ने चुनाव का बहिष्कार किया। इनमें अधिकतर बीएनपी के उम्मीदवार हैं। बीएनपी के आरके रिजवी ने कहा कि आवामी लीग समर्थकों ने देशभर में पोलिंग बूथों पर कब्जा कर रखा है। यह पूरी तरह से एकतरफा चुनाव है।

हसीना ने डाला सबसे पहले वोट

प्रधानमंत्री शेख हसीना ने राजधानी ढाका के एक पोलिंग सेंटर पर सबसे पहले वोट डाला। इस सीट से उनके भतीजे और पार्टी उम्मीदवार फजले नूर तपोश चुनाव मैदान में हैं।

https://www.therisingnews.com/?utm_medium=thepizzaking_notification&utm_source=web&utm_campaign=web_thepizzaking&notification_source=thepizzaking

जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555

दि राइजिंग न्यूज़

Suggested News

Advertisement