Home International News America Again On Economical Crisis

दिल्ली के मुखर्जी नगर में कैदी को हॉस्पिटल ले जाने के दौरान साथियों ने पुलिस बल पर किया हमला

दिल्ली के मुखर्जी नगर में कैदी को छुड़ाने की कोशिश, हमले में एक सिपाही की मौत

मुंबईः पीएनबी घोटाले मामले में तीनों आरोपी सीबीआई कोर्ट पहुंचे

दिल्लीः मुख्य सचिव ने पुलिस में आप विधायकों के खिलाफ केस दर्ज कराई

दिल्लीः मुख्य सचिव ने कहा, आप विधायकों के साथ मारपीट में मेरा चश्मा नीचे गिर गया

अमेरिका में लाखों लोग बेरोजगारी की कगार पर, ये है वजह

International | 20-Jan-2018 13:55:33 | Posted by - Admin
   
 America Again On Economical Crisis

दि राइजिंग न्यूज़

इंटरनेशनल डेस्क।

 

अमेरिका ने पिछले दिनों पाक सहित कई देशों को आर्थिक सहायता देना बंद कर दिया है। अब जो खबरें सामने आ रही हैं वो ये हैं कि अमेरिका में बड़ा आर्थिक संकट खड़ा हो गया है।

 

अगर समय पर अमेरिका के दोनों सदनों में आर्थिक विधेयक पारित नहीं हुआ तो वहां शटडाउन की नौबत आ जाएगी। यानी कई सरकारी विभागों को बंद करना पड़ेगा और लाखों कर्मचारी बेरोजगार हो जाएंगे और उन्हें वेतन के बिना घर बैठना पड़ेगा। कुल मिलाकर अमेरिकी अर्थव्यवस्था बहुत बड़े खतरे से गुजर रही है। पांच साल में दूसरी बार ऐसी स्थिति बनने के बाद आशंका जताई जा रही है कि क्या अमेरिका दिवालियेपन की ओर बढ़ रहा है।

बता दें कि फिलहाल अमेरिका में एंटीडेफिशिएंसी एक्ट लागू है। इस एक्ट के लागू होते ही संघीय एजेंसियों को पैसे की कमी की वजह से अपना कामकाज रोकना पड़ता है। बजट न होने की वजह से कर्मचारियों की छुट्टी पर भेज दिया जाता है और उन्हें  इस छुट्टी के दौरान वेतन भी नहीं दिया जाता। इस स्थिति में सरकार संघीय बजट लाती है, जिसे प्रतिनिधि सभा और सीनेट, दोनों में पारित कराना जरूरी होता है।

 

पहली बार नहीं बनी है ये स्थिति

फिलहाल अमेरिकी प्रशासन में 35 लाख कर्मचारी हैं अगर वहां शटडाउन की स्थिति पैदा हो जाती है तो करीब साढ़े आठ लाख कर्मचारियों को पहले ही दिन से घर पर बैठना पड़ सकता है। लेकिन इन सबके  बीच सैन्यकर्मियों की ड्यूटी लगी है, उन्हें इस क्राइसिस के बाद भी नहीं हटाया जाएगा।

अमेरिकी में शटडाउन की स्थिति पहली बार नहीं बनी है। इससे पहले वर्ष 1981, 1984, 1990, 1995-96 और 2013 में भी शटडाउन हो चुका है। तब अमेरिका की स्थिति इतनी खराब हो चुकी थी कि उसके  पास खर्च करने के लिए पैसा भी नहीं बचा था। पांच साल पहले भी अक्टूबर 2013 में यहां शटडाउन हुआ था, जो दो हफ्तों तक चला था और 8 लाख कर्मचारियों को इस दौरान घर बैठना पड़ा था। तब बराक ओबामा राष्ट्रपति थे।

"जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555








TraffBoost.NET

Rising Stroke caricature
The Rising News Public Poll





Flicker News

Most read news

 


Most read news


Most read news