Irrfan Khan Writes an Emotional Letter About His Health

दि राइजिंग न्यूज़

एंटरटेनमेंट डेस्क।

14 सितंबर को बॉलीवुड अभिनेता आयुष्मान खुराना का जन्मदिन होता है। इस साल वो अपना 33 वां जन्मदिन मना रहे हैं। हाल ही में “शुभ मंगल सावधान” और उससे पहले “बरेली की बर्फी” में अपने अभिनय का रंग दिखा चुके आयुष्मान ने बहुत ही कम समय में अपनी एक अलग पहचान बना ली है।

आइये उनके जन्मदिन के मौके पर जानते हैं उनसे जुड़ी कुछ ख़ास बातें!

जन्म और परवरिश

आयुष्मान खुराना का जन्म पंजाब के चंडीगढ़ में हुआ और स्कूल से लेकर मास्टर्स तक की शिक्षा दीक्षा भी पंजाब में ही हुई। उन्होंने अंग्रेज़ी साहित्य में स्नातक करने के बाद जनसंचार में एम. ए किया है। शुरू से उनका रुझान कला की तरफ रहा है। वो थियेटर से भी जुड़े रहे और एक पत्रकार के रूप में नौकरी भी की है। आयुष्मान खुराना ने चंडीगड़ में “आगाज़” और “मंचतंत्रा” नामक थिएटर ग्रुप्स की शुरुआत भी की थी जो आज भी चंडीगढ़ में सक्रिय हैं। कहना गलत न होगा कि कला को लेकर उनकी संवेदना हमेशा से रही है!

एस्ट्रोलॉजर पिता का एक्टर बेटा

आयुष्मान के पिता पी खुराना एक जाने माने एस्ट्रोलॉजर हैं। उन्होंने कई किताबें भी लिखी हैं। आयुष्मान के मुताबिक पिता के कहने पर ही उन्होंने कला को अपना क्षेत्र बनाया और इस राह पर चले। हालांकि, वो ज्योतिष में अंधविश्वास की पैरवी नहीं करते।

करियर

आयुष्मान खुराना ने अपने करियर की शुरुआत वीटीवी के साथ तब की थी जब वो महज 17 साल के थे। “एमटीवी रोडीज” का सीजन 2 जीतने के बाद आयुष्मान पहचाने जाने लगे, जर्नलिज्म की पढ़ाई करने वाले आयुष्मान ने रेडियो में भी काम किया है। इसके बाद आयुष्मान एमटीवी समेत अलग अलग चैनलों पर शो होस्ट करने लगे और फिर उनका चेहरा घर घर में पहचाना जाने लगा। साल 2012 में “विकी डोनर” से अपना फ़िल्मी सफ़र शुरू करने वाले आयुष्मान अपनी इस पहली फ़िल्म से ही छा गए। इस फ़िल्म के लिए उन्हें खूब सराहना भी मिली।

बेस्ट एक्टर और बेस्ट सिंगर का फ़िल्मफेयर अवार्ड

“विकी डोनर” के लिए आयुष्मान खुराना को बेस्ट डेब्यू एक्टर का फ़िल्मफेयर अवार्ड तो मिला ही साथ ही उनके गाये गाने “पानी दा रंग” के लिए उन्हें फ़िल्मफेयर से बेस्ट सिंगर का अवार्ड भी मिला। इसके साथ ही “ज़ी सिने अवार्ड” से लेकर “स्टारडस्ट अवार्ड” तक में उनकी धूम रही। “नौटंकी साला”, “बेवकूफियां”, “हवाईजादा” के बाद उन्हें फिर “दम लगाकर हईशा” मिली जिसने उनके करियर को एक रफ़्तार दी। उसके बाद इस साल “मेरी प्यारी बिंदु”, “बरेली की बर्फी” और “शुभ मंगल सावधान” जैसी फ़िल्मों ने आयुष्मान को इंडस्ट्री में स्थापित कर दिया है।

शादी और बच्चे

आषुष्मान खुराना शादीशुदा हैं और दो बच्चों के पिता भी हैं। आयुष्मान ने इंडस्ट्री में आने से पहले ही साल 2011 में ताहिरा कश्यप से शादी कर ली थी। आयुष्मान के मुताबिक, ''मुझे लगता है मैं उन फ़िल्मों के लिए नहीं बना हूं जो लगातार एक जैसे विषय पर हो। मैं लीक से हटकर बनने वाली फ़िल्मों के लिए बना हूं। मुझे लगता है एक तरह से यह फ़िल्में मेरे लिए काम भी कर जाती हैं फिर वह “विकी डोनर” हो या “दम लगा के हईशा” हो या फिर “शुभ मंगल सावधान” हो। मैं मानता हूं कि यह सभी फ़िल्में बहुत ही अलग विषय पर बनी हैं।'' अलग-अलग तरह की फ़िल्में करने वाले आयुष्मान खुराना जल्द ही अपनी अगली फ़िल्म में एक पियानो प्लेयर के किरदार में दिखने वाले हैं।

जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555

The Rising News

Suggested News

Advertisement

Loading...

Public Poll