Jhanvi Kapoor And Arjun Kapoor Will Seen in Koffee With Karan

दि राइजिंग न्यूज़

एंटरटेनमेंट डेस्क।

अशोक कुमार और किशोर कुमार दोनों सगे भाई थे। इन दोनों को भारतीय सिनेमा में दिए गये अभूतपूर्व योगदान के लिए जाना जाता है। जहां एक ओर अशोक कुमार अपनी जानदार अदाकारी के लिए याद किए जाते हैं तो वहीँ किशोर कुमार के गाने आज भी किसी भी महफ़िल में समां बांधने के लिए काफी हैं। सगे भाई, बॉलीवुड में अपार सफलता के अलावा भी एक ऐसी चीज़ है जो इन दोनों की ज़िंदगी में कॉमन है, वो है – 13 अक्टूबर।

दरअसल 13 अक्टूबर की तारीख इन दोनों भाइयों की जीवन से इस तरह से जुड़ी है कि आप भी चौंक जाएंगे। दादा मुनि के नाम से मशहूर अशोक कुमार का जन्म 13 अक्टूबर 1911 को हुआ था, तो वहीं 1987 में 13 अक्टूबर की ही तारीख को किशोर कुमार का निधन हुआ। भागलपुर के एक बंगाली परिवार में जन्मे अशोक और किशोर कुमार की उम्र में करीब 18 साल का अंतर था। दोनों के एक और भाई थे अनूप कुमार, जिन्होंने हिंदी सिनेमा में काम किया।

अशोक कुमार को सिनेमा में बेहतरीन योगदान के लिए दादा साहेब फाल्के पुरस्कार और पद्म भूषण से भी नवाजा गया था। वहीं बात करें किशोर कुमार की तो मुसाफिर, पड़ोसन, चलती का नाम गाड़ी जैसी फिल्मों में काम करने वाले किशोर कुमार को रिकॉर्ड 8 बार फिल्मफेयर के सर्वश्रेष्ठ गायक का अवॉर्ड मिला था।

ये एक अजब संयोग ही था कि अशोक कुमार के 87वें जन्मदिन पर उनके छोटे भाई किशोर ने अपनी आखिरी सांस ली। साल 2001 में अशोक कुमार भी इस दुनिया को छोड़ कर चल बसे।

 

 

 

जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555

दि राइजिंग न्यूज़

Suggested News

Advertisement