Actress katrina Kaif and Mouni Roy Visited Durga Puja Pandal

दि राइजिंग न्यूज़

आउटपुट डेस्क।

 

देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज अहमदाबाद में साबरमती नदी से मेहसाना जिले के धरोई बांध तक सी-प्लेन में यात्रा की। यहां पहुंचकर उन्होंने अंबाजी में मां अंबा को नमन किया। आपको बता दें कि यह पहला मौका है जब प्रधानमंत्री ने देश में किसी सीप्लेन से सफ़र किया हो। बता दें कि भारत सरकार छोटे शहर और ग्रामीण इलाकों को आपस में जोड़ने के लिए सी प्लेन विकल्प ला रही है।

 

इसके तहत स्पाइस जेट जापान की सेतोची होल्डिंग्स के साथ मिलकर 10 और 12 सीटों के पानी और जमीन पर उतरने वाले प्लेन का ट्रायल कर रही हैं। हाल ही में मुंबई की गिरगांव चौपाटी पर सीप्लेन का ट्रायल किया था।

पढ़िए इस सी-प्लेन की खासियत

 

बेहद कीमती

मीडिया रिपोर्ट्स की मानें तो एक सी प्लेन की कीमत करीब 4 मिलियन डॉलर यानि करीब 25 करोड़ रूपए है। स्पाइस जेट जापान से 100 सीप्लेन खरीदने वाला है।

 

रफ़्तार: पलक झपकते मंजिल पर पहुंचाएगा

इस सीप्लेन की ख़ास बात यह है कि ये प्लेन दो फीट पानी में तो लैंड कर ही सकता था। साथ ही खेत और रोड पर भी इसे आसनी से उतारा जा सकता है। “Quest kodiak 100” मॉडल के इस प्लेन की टॉप स्पीड 339 किमी प्रति घंटा है। यह केवल 300 मीटर के रन वे टेक ऑफ़ ले सकता है।

वजन और कैपेसिटी में भी सबसे अव्वल

इसका वजन 700 किलो है, जबकि इसकी क्षमता 1110 किलो तक है। बताया जा रहा है कि एक बार में इस प्लेन में 10 लोग सफ़र कर सकते हैं। भारत का सबसे पहला सी प्लेन “जल हंस” अंडमान निकोबार आयलैंड के बीच उड़ता है। 2010 में प्रफुल पटेल ने सिविल एविएशन मंत्री रहते हुए इसे लॉन्च किया था।

 

सरकार का महत्वपूर्ण कदम

मालूम हो कि सरकार उड़ान प्रोजेक्ट के तहत पहले चरण में 32 स्थानों पर सी प्लेन शुरू करने की योजना बना रही है। वहीं, दूसरे चरण में 80 स्थानों को इस योजना से जोड़ा जाएगा। माना जा रहा है कि इस योजना से लोग देश के कोने-कोने से जुड़ पाएंगे। फिलहाल मालदीव और ऑस्ट्रेलिया जैसे देश अपने टूरिस्ट को सी प्लेन के जरिये सफ़र करने की सुविधा दे रहे हैं।

जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555

दि राइजिंग न्यूज़

Suggested News

Advertisement