Actress katrina Kaif and Mouni Roy Visited Durga Puja Pandal

दि राइजिंग न्यूज़

नई दिल्ली।

 

बॉलीवुड की बेहतरीन एक्ट्रेस रानी मुखर्जी के पिता राम मुखर्जी का 22 अक्टूबर सुबह 4 बजे निधन हो गया। उनका पार्थिक शरीर करीब साढ़े दस बजे उनके घर जानकी कुटीर ले जाया गया है। दोपहर दो बजे विले पार्ले के पवन हंस श्मशा घाट में उनका अंतिम संस्कार किया जाएगा।

 

बताया जा रहा है कि राम मुखर्जी मुंबई के ब्रीच कैंडी अस्पताल में भर्ती थे। उनकी सेहत काफी समय से खराब थी। आखिरी बार वह रानी मुखर्जी के घर आयोजित दुर्गा पूजा में नजर आए थे। 85 वर्ष के राम मुखर्जी का हृदय गति रुक जाने से निधन हुआ बताया जा रहा है।

राम मुखर्जी जाने-माने फिल्म निर्देशक थे। उन्होंने हिंदी और बंगाली की कई फिल्मों का निर्देशन किया है। वह मुंबई के फिल्मालय स्टूडियो के संस्थापक सदस्यों में से एक थे। रानी मुखर्जी की डेब्यू फिल्म बाइर फूल का निर्माण और निर्देशन भी राम मुखर्जी ने ही किया था। ये फिल्म साल 1996 में आई थी। 1997 में आई हिंदी फिल्म राजा की आएगी बारात के प्रोड्यूसर भी राम मुखर्जी ही थे।

 

1964 में आई दिलीप कुमार और वैजयंती माला की फिल्म  फिल्म लीडर का निर्देशन भी राम मुखर्जी ने ही किया था। इसके अलावा उन्हें 1960 में आई फिल्म हम हिंदुस्तानी के लिए भी जाना जाता है।

बता दें कि रानी मुखर्जी भी फिल्मी फैमिली से ताल्लुक रखती हैं। उनके पिता राम मुखर्जी तो जाने-माने फिल्मकार थे ही, उनकी मां कृष्णा मुखर्जी एक प्लेबैक सिंगर हुआ करती थी। रानी का भाई राजा मुखर्जी भी फिल्म एंड इंडस्ट्री से जुड़े हुए प्रोड्यूसर डायरेक्टर हैं।

जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555

दि राइजिंग न्यूज़

Suggested News

Advertisement