Baaghi 2 Assistant Director Name Came in Physical Assault

दि राइजिंग न्‍यूज

नई दिल्‍ली।

 

रविवार को आप (आम आदमी पार्टी) को बड़ा झटका लगा है। राष्‍ट्रपति रामनाथ कोविंद ने आप के 20 विधायकों को अयोग्य करार दिया है। रविवार को ऑफिस ऑफ प्रॉफिट मामले में चुनाव आयोग की सिफारिशों को राष्ट्रपति ने मंजूरी दे दी।

 

 

फैसले के बाद आप के वरिष्ठ नेता गोपाल राय ने कहा कि राष्ट्रपति का यह निर्णय दुर्भाग्यपूर्ण है। हम इसके खिलाफ सोमवार को न्यायालय जाएंगे, जिसमें हमें न्याय मिलने की पूरी उम्मीद है। उन्होंने आगे कहा, इस पूरे मामले में चुनाव आयोग ने पक्षपातपूर्ण रवैया अपनाया, लेकिन हम हर षड़यंत्र के खिलाफ लड़ने के लिए तैयार हैं।

 

 

इससे पहले 20 विधायकों की सदस्यता रद्द होने पर शनिवार को आम आदमी पार्टी के राष्ट्रीय संयोजक व मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने बैठक की। इसमें तय हुआ की चुनाव आयोग की कार्रवाई असंवैधानिक व अलोकतांत्रिक है। विधायक अपना पक्ष रखने के लिए अब राष्ट्रपति का दरवाजा खटखटाएंगे। बैठक में 20 विधायकों के साथ उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया और अन्य पार्टी के वरिष्ठ नेता मौजूद रहे।

 

 

सिसोदिया ने बताया की चुनाव आयोग ने बगैर हमारे विधायकों को सुने ही उनकी सदस्यता रद्द करने की सिफारिश की है। यह किसी भी तरह लोकतांत्रिक नहीं है। सिसोदिया ने कहा कि हम राष्ट्रपति से इस मामले में समय लेंगे।

विधायकों के साथ जाकर सबूतों के साथ अपनी बात रखेंगे। उनसे गुजारिश करेंगे की वह फाइल को दोबारा चुनाव आयोग को भेजे और इस मामले में सुनवाई हो।

जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555

दि राइजिंग न्यूज़

Suggested News

Advertisement