Actress Jhanvi kapoor  Shares The Image of Dhadak Sets on Social Media

दि राइजिंग न्यूज़

आउटपुट डेस्क।

 

एक्सपर्ट्स का कहना है कि बच्चों की पिटाई करना नुकसानदेह है, क्योंकि हो सकता है कि पिटाई से बच्चे सुधरने के बजाय और बिगड़ जाएं।

क्या कहते हैं एक्सपर्ट:

टेक्सास यूनिवर्सिटी के शोधकर्ताओं ने 12,112 बच्चों पर स्टडी करने के बाद बताया कि पिटाई कोई प्रभावी तकनीक नहीं है और यह बच्चों के व्यवहार को खराब बनाती है ना कि बेहतर।

माता-पिता कई कारणों से अपने बच्चों की पिटाई करते होंगे। खासकर जो मां-बाप अपने बच्चे की पिटाई करते हैं, वे शायद ही बच्चे की बात समझते हों कि उनसे गलती हुई या जानबूझ कर ये काम किया।

जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555

दि राइजिंग न्यूज़

Suggested News

Advertisement