Pregnant Actress Neha Dhupia Shares Her Opinion on Pregnancy

दि राइजिंग न्‍यूज

लखनऊ।

 

ई-रिक्‍शा के संचालन की वजह से राजधानी के कई मार्ग ऐसे है जहां अन्‍य वाहनों की रफतार धीमी हो गयी है। इस वजह से कई मार्गों पर जाम की स्थिति बनी रहती है। इन हालात को देखते हुए इंवस्‍टर समिटि से पहले ई-रिक्‍शा को प्रतिबंधित करने की पूरी तैयारी कर ली है। शहर में ई रिक्शों पर लगाम लगाने के लिए आरटीओ और ट्रैफिक पुलिस मिलकर नई नियमावली तैयार की है। इस नियम पर मंजूरी मिलते ही इन सभी मार्गों से ई रिक्शा को हटाए जाने की कवायद शुरू हो जाएगी।

 

पिछले महीने राजधानी में यातायात व्यवस्था को सुधारने के लिए जिलाधिकारी कार्यालय में हुई मीटिंग में एक बार फिर से ई रिक्शा को मुख्य मार्ग से दबाव कम करने के लिए निर्देश ट्रैफिक पुलिस और आरटीओ विभाग के अधिकारियों दिए गए। बैठक के बाद दोनों अधिकारियों ने राजधानी के विभिन्न इलाकों में संचालित होने वाले ई रिक्शा के रूटों का अध्ययन किया। अध्ययन में पाया गया कि राजधानी के 157 से अधिक रूटों पर ई रिक्शा संचालित हो रहे हैं। छोटे-बड़े सभी रूटों पर ई रिक्शा का संचालन होता पाया गया।

30 फिट से अधिक चौड़ी सड़कों पर लगाया प्रतिबंध

आरटीओ एके सिंह ने बताया कि मुख्य मार्गों से ई रिक्शा को बाहर किए जाने के लिए 30 फिट से अधिक चौड़ी सड़कों पर इनका संचालन बैन किए जाने की तैयारी है। इसकी वजह यह है कि चौड़ी सड़कों पर गाड़िया तेज चलती हैं। ई रिक्शा की रफ्तार कम होने के कारण जाम लगता है। इंवेस्टर समिट के पहले इन रिक्शे को हटाने के लिए विभागीय प्रवर्तन दल और यातायात विभाग मिलकर आगे की रणनी‍ती बनाने में लग गये है।

जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555

दि राइजिंग न्यूज़

Suggested News

Advertisement