Crowd Rucuks At Sapna Chaudhary Program in Begusaray of Bihar

दि राइजिंग न्यूज़

आउटपुट डेस्क।

 

छोटे बच्चे जब तुतलाकर बोलना सबको पसंद है, लेकिन जैसे-जैसे बच्चा बड़ा होने लगता है उसका तुतला कर बोलना मजाक का विषय हो जाता है। अगर आपका बच्चा भी थोड़ा तुतलाकर या फिर हकलाकर बोल रहा हो तो इसे आम समस्या मानकर इग्नोनर न करें बल्कि इस घरेलू उपाय की मदद से भी आप जल्द ही इस परेशानी का समाधान निकाल सकते हैं।

यह समस्या मोटी जीभ, हकलाने वाली की नकल करने और नाड़ियों में किसी प्रकार के दोष होने से हो सकती है। जब हम बोलते वक्त सही से अक्षरों को नहीं बोल पाते, रुक-रुककर बोलते हैं तो यह तुतलाना या हकलाना कहलाता है। डॉक्टरों के अनुसार, अगर कोई बच्चा बोलते वक्त हकलाता है, तो उसके लिए आंवला बहुत ही फायदेमंद हो सकता है। ऐसे बच्चों को कुछ दिनों तक आंवला चबाने के लिए देना चाहिए।

दरअसल आंवला चबाने से जीभ पतली होने लगती है और आवाज साफ निकलने लगती है। आंवले से आवाज साफ होती है और हकलाने की समस्या धीरे-धीरे कम होती जाती है। बच्चों के हकलाने और तुतलाने पर कच्चे, पके हरे आंवले को उन्हें चूसने के लिए दें और आप जल्द ही इसका प्रभाव देख सकते हैं।

 

जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555

दि राइजिंग न्यूज़

Suggested News

Advertisement