Actress Jhanvi kapoor  Shares The Image of Dhadak Sets on Social Media

दि राइजिंग न्‍यूज

लखनऊ।

 

पुराने जेल रोड स्थित होमगार्ड मुख्‍यालय में बुधवार को होमगार्ड स्थापना दिवस समारोह मनाया गया। हालांकि मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ के ना पहुंचने से जवानों के मायूसी भी दिखी लेकिन प्रतिनिधि के रूप में पहुंचे अनिल राजभर ने परेड़ की सलामी ली। इस दौरान एडीजी होमगार्ड सूर्य कुमार शुक्ला सहित कई अधिकारी मौजूद रहे। समारोह में ड्यूटी के दौरान अपने प्राण न्‍यौछावर करने वाले जवानों के परिजनों को सम्‍मानित किया गया। 

कार्यक्रम के दौरान होमगार्ड्स जवानों ने कदमताल करते हुए शानदार परेड पेश किया। इसके बाद एनडीआरएफ की एक प्रदर्शनी भी लगाई गई। अपने संबोधन भाषण में एडीजी होमगार्ड सूर्य कुमार शुक्‍ल ने कहा कि 50 हजार से अधिक होमगार्ड्स शहरी और ग्रामीण क्षेत्रों में सुरक्षा एवं यातायात संभालते हैं। कंधे से कंधा मिलाकर चलने वाले यह जवान जल्‍द ही सीमा पर भी मोर्चा संभालेंगे जो एलआईयू की तरह काम करेंगे। इन जवानों को प्रदेश से जुड़ती सीमाओं से लगाया जाएगा। क्षेत्रीय होमगार्ड के जरिए सीमा की छोटी से छोटी जानकारी भी सटीकता के आधार पर  मिल पाएगी। 

एनडीआरएफ तक में पहुंचे होमगार्ड-

 

आपात काल में जन सुरक्षा के लिए 500 से अधिक अधिकारियों और 600 से अधिक होमगार्ड को एनडीआरएफ के तहत प्रशि‍क्षित किया जा चुका है। यह होमगार्ड, ट्रैफिक, कानून व्‍यवस्‍था से लेकर यूपी 100 तक में अपना योगदान दे रहे हैं। हालांकि इस दौरान एडीजी ने दुख जताते हुए कहा कि प्रदेश में अब तक 1300 होमगार्डों ने प्राणों को न्‍यौछावर भी किया है। 

जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555

दि राइजिंग न्यूज़

Suggested News

Advertisement