Crowd Rucuks At Sapna Chaudhary Program in Begusaray of Bihar

दि राइजिंग न्‍यूज

बीजिंग।

 

भारत के राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद के अरुणाचल दौरे से भी चीन तिलमिला गया है। चीन के विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता लू कांग ने कहा है कि भारत को मौजूदा हालात को देखते हुए इससे बचना चाहिए। चीन ने भारत को नसीहत देते हुए कहा है कि ऐसे वक्त में जब दोनों देशों के रिश्ते बेहद संवेदनशील दौर से गुजर रहे हैं, भारत को इसका ध्यान रखना चाहिए।

 

 

प्रवक्ता ने कहा कि दोनों ही देश मतभेद वाले मुद्दों का समाधान निकाल रहे हैं। चीन ने अरुणाचल में लगातार दौरों पर ऐतराज जताते हुए कहा कि हमें ऐसा समाधान निकालना चाहिए जो सभी को स्वीकार्य हो।

 

 

रविवार को ही राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद अरुणाचल प्रदेश की विधानसभा में नवनिर्मित भवन का उद्घाटन करने गए थे। यहां विधानसभा के विशेष सत्र को संबोधित करते हुये कोविंद ने कहा था कि आपके पास इस इमारत की तरह अपने लोगों के लिये जगह होनी चाहिये, जिन्होंने बेहद उम्मीद और आकांक्षाओं के साथ आपको चुना है। अपने मतदाताओं की अकांक्षाओं को बरकरार रखने और पूरी गंभीरता से उनकी सेवा करने के लिये आपको उनकी जिम्मेदारियां साझी करनी चाहिए।

 

 

राष्ट्रपति ने कहा कि संसदीय लोकतंत्र में पार्टी लाइन पर चुनाव लड़े जाते हैं, लेकिन निर्वाचित प्रतिनिधि पार्टी के विधायक नहीं होते बल्कि पूरे क्षेत्र के विधायक होते हैं। राष्ट्रपति ने कहा था कि अरुणाचल प्रदेश देश के लोगों के लिये प्रेरणा का स्रोत है।

 

 

अगस्त में भी लेह गए थे राष्ट्रपति कोविंद

इससे पहले अगस्त में भी राष्ट्रपति सेना के कार्यक्रम में एक दिन के दौरे पर लद्दाख गए थे। सीमा पर चीन की चालबाजी के बीच कोविंद का यह दौरा दौरा बेहद अहम था। सेना प्रमुख उनके साथ ही थे।

जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555

दि राइजिंग न्यूज़

Suggested News

Advertisement